करंट टॉपिक्स

पाक घुसपैठ विफल करने में भारत का एक जवान शहीद, दो घायल

Spread the love

जम्मू. अखनूर सेक्टर के सीमावर्ती पलांवाला क्षेत्र में 22 जुलाई को पाकिस्तान की तरफ से हो रही घुसपैठ के प्रयास को सीमा पर तैनात भारतीय जवानों ने विफल बना दिया. हालांकि इस दौरान दोनों तरफ से हुई भीषण गोलीबारी में एक जवान शहीद हो गया और 2 जवान घायल हो गये. दूसरी ओर, जम्मू और कश्मीर के कठुआ जिले में सीमा सुरक्षा बल ने एक घुसपैठिये को मार गिराया है. पाकिस्तान की तरफ से अखनूर सेक्टर के चकला पोस्ट में करीब 8 बजे से 10 बजे तक फायरिंग हुई.

राज्य सभा में रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने आज ही संघर्ष विराम के उल्लंघन का मुद्दा उठाते हुए कहा कि भारत इसे बर्दाश्त नहीं करेगा और पाकिस्‍तान को समय आने पर उचित जवाब दिया जायेगा. जेटली ने कहा कि भारत का सिर नहीं झुकने दिया जाएगा.

रक्षा मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार के गठन के बाद भारत प्रशासित कश्मीर में भारत-पाक सीमा पर पाकिस्तान की तरफ़ से हुए कथित सीज़फ़ायर (संघर्षविराम) उल्लंघन में कोई बढ़ोत्तरी नहीं देखी गई है. वे राज्य सभा में कांग्रेसी नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद के उन आरोपों का जवाब दे रहे थे जिनमें आज़ाद ने सरकार से पूछा था कि सरकार के बड़े-बड़े दावों के बावजूद पाकिस्तान सीमा पर सीज़फ़ायर का उल्लंघन क्यों कर रहा है.

जेटली ने अपने जवाब में कहा कि 27 मई से 17 जुलाई तक पाकिस्तान ने 19 बार भारत-पाक सीमा पर सीज़फ़ायर का उल्लंघन किया है. जबकि यूपीए सरकार के कार्यकाल में पाकिस्तान ने 347 बार सीज़फ़ायर का उल्लंघन किया था. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के समय पाकिस्तान की ओर से किए गये कथित उल्लंघन पर तुरंत जवाबी कार्रवाई की गई है.

जम्मू और कश्मीर के कठुआ में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ ने घुसपैठ की एक कोशिश को नाकाम कर दिया और एक घुसपैठिए को मार गिराया. बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया, ‘कल रात सुरक्षा बल सीमा की चौकसी कर रहे थे, तभी हरिनगर सेक्टर की कारोल मात्रायम की अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगी जीरो लाइन के पास घुसपैठियों के एक समूह की हलचल दिखी.’

उन्होंने कहा कि बीएसएफ की 68वीं बटालियन के जवानों ने घुसपैठियों को चुनौती दी और उन पर गोली चलाना शुरू कर दिया. गोलीबारी में उनमें से एक को मौके पर ही मार गिराया गया. उन्होंने कहा कि बाकी घुसपैठिये पाकिस्तान की तरफ भाग गये. एक हफ्ते से कम समय में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर यह घुसपैठ की दूसरी कोशिश थी. गुरुवार रात को भी बीएसएफ ने जम्मू जिले में सुचेतगढ़ सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश को असफल कर दिया था.

इस महीने 1 जुलाई, 12 जुलाई और 16 जुलाई को पाकिस्तान की तरफ से भारी गोलीबारी की जा चुकी है.16 जुलाई की गोलीबारी में भी बीएसएफ का एक जवान शहीद हो चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.