करंट टॉपिक्स

पुरातत्व विभाग की जमीन पर मस्जिद बनाने का प्रयास, कर्फ्यू

Spread the love

हथीन (विसंके हरियाणा). पलवल जिले के हथीन कस्बे में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पुरातत्व विभाग की जमीन पर मस्जिद बनाने का प्रयास किया है. हिंदू समाज के लोगों द्वारा विरोध किये जाने पर मामले को सांप्रदायिक रंग देते हुए मस्जिद तोडऩे का आरोप लगाते हुए कस्बे में कई मंदिरों में तोडफ़ोड़ की गई. साथ ही बाजार में लूटपाट भी की गई. तनाव को देखते हुए प्रशासन ने कस्बे में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू लगाया. संवेदनशील इलाकों में अर्धसैनिक बल के जवान तैनात किए गये. चार दिन कर्फ्यू जारी रहा. इनमें दो दिन 24 घंटे जबकि उसके बाद दो दिन रात के समय कर्फ्यू जारी रहा.

दरअसल कस्बे में पुरातत्व विभाग की जमीन है. बताया गया है कि इस जमीन पर पुलिस थाना भी चल रहा है. एक जगह एक टीन शेड लगा था. करीब चार माह पूर्व टीन शेड वाली जगह पर कुछ लोगों ने कब्जा कर मस्जिद बनाने का काम शुरू कर दिया. ऐसा होते देख कोर्ट में याचिका दायर की गई. इस पर अदालत ने निर्माण कार्य पर रोक लगाने का आदेश जारी किया. कुछ दिन रुकने के बाद मस्जिद बनाने का प्रयास करने वाले लोगों ने निर्माण कार्य जारी रखा. बताया गया है कि 4 अक्टूबर को 80 से अधिक मजदूरों की मदद से मस्जिद बनाने के प्रयास में लगे लोगों ने वहां बनाये जा रहे भवन पर लेंटर डालने की तैयारी की थी. इसका पता चलने पर हिंदू संगठनों से जुड़े कार्यकर्ता मौके पर एकत्र हो गये. काफी लोगों के एकत्र होने पर वहां लगे मजदूर और अन्य लोग भाग खड़े हुये. इसके बाद मस्जिद बनाने का प्रयास करने वाले लोगों ने कस्बे में अफवाह फैला दी कि मस्जिद तोड़ दी गई है. इस पर काफी संख्या में मुस्लिम बाजार में पहुंच गये और कई दुकानों में तोडफ़ोड़ की और लूटपाट की. कई मंदिरों में भी तोडफ़ोड़ की गई. इसके बाद प्रशासन ने स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिये कस्बे में कर्फ्यू लगा दिया. पांच और छह अक्टूबर को 24 घंटे कर्फ्यू जारी रहा. इसके बाद सात और आठ अक्टूबर को रात्रि में कर्फ्यू जारी रहा. इसके बाद भी लगातार पुलिस बल क्षेत्र में तैनात है.

पुलिस और प्रशासन पर उठ रहे सवाल

सवाल यह उठता है कि आखिर स्थगनादेश के बावजूद निर्माण कार्य कैसे जारी रहा. चर्चा है कि निर्माण कार्य राजनीतिक संरक्षण में जारी रहा. कुछ पुलिसकर्मियों द्वारा भी इसमें सहयोग किये जाने की बात कही जा रही है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.