प्रवासी मजदूरों को पुष्प वर्षा कर किया विदा, यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के पालन को किया जागरुक Reviewed by Momizat on . अपने गंतव्य पर पहुंच कर अपने साथ-साथ अपने परिवारों का रखें ध्यान बच्चों से कहा, अपने गांव जाकर पढ़ाई मत छोड़ देना पानीपत. श्रमिक ट्रेन से पानीपत से बिहार जा रहे अपने गंतव्य पर पहुंच कर अपने साथ-साथ अपने परिवारों का रखें ध्यान बच्चों से कहा, अपने गांव जाकर पढ़ाई मत छोड़ देना पानीपत. श्रमिक ट्रेन से पानीपत से बिहार जा रहे Rating: 0
    You Are Here: Home » प्रवासी मजदूरों को पुष्प वर्षा कर किया विदा, यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के पालन को किया जागरुक

    प्रवासी मजदूरों को पुष्प वर्षा कर किया विदा, यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के पालन को किया जागरुक

    अपने गंतव्य पर पहुंच कर अपने साथ-साथ अपने परिवारों का रखें ध्यान

    बच्चों से कहा, अपने गांव जाकर पढ़ाई मत छोड़ देना

    पानीपत. श्रमिक ट्रेन से पानीपत से बिहार जा रहे प्रवासियों को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरियाणा के प्रचार विभाग की टीम ने पुष्प वर्षा कर विदा किया. टीम ने श्रमिकों को यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को लेकर जागरुक किया तथा खाली समय में पढ़ने के लिए राष्ट्रीय विचारों का साहित्य भी भेंट किया. प्रचार विभाग के कार्यकर्ताओं ने ट्रेन में मौजूद श्रमिकों व उनके परिवार के सदस्यों के साथ बातचीत की तथा उनका हालचाल भी जाना.

    स्टेशन से रवाना होते हुए श्रमिकों ने यह महसूस किया कि मानो वह अपने परिवार से बिछुड़ रहे हों. स्टेशन पर श्रमिकों को विदा करने आए लोगों ने भारत माता के जयघोष के साथ श्रमिकों को विदा किया.
    हरियाणा के प्रचार प्रमुख राजेश कुमार ने श्रमिकों व उनके परिवार के सदस्यों से बातचीत करते हुए उनका कुशल-क्षेम जाना तथा उन्हें सझाते हुए कहा कि वह ट्रेन में सफर के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखें तथा सतर्कता के साथ अपना सफर करें. सफर के दौरान किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें. इससे उनकी व उनके परिवार की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है. अपने गंतव्य पर पहुंच कर सभी लोग अपने साथ-साथ अपने परिवार के सदस्यों का भी विशेष ध्यान रखें तथा उन्हें भी कोरोना संक्रमण के बारे में जागरूक करें. श्रमिकों के साथ मौजूद उनके बच्चों से बातचीत करते हुए उनकी पढ़ाई के बारे में जानकारी ली तथा उन्हें समझाते हुए कहा कि अपने गांव जाकर वह अपनी पढ़ाई को बीच में न छोड़ें. जैसे ही स्थिति सामान्य होती है तो वह नजदीक के स्कूल में दाखिला लेकर अपनी पढ़ाई को जारी रखें.

    विशेष श्रमिक ट्रेन में 1400 श्रमिक मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, दरभंगा, प. चम्पारन, पूर्वी चम्पारन, मधुबनी, शिवहर और सीतागढ़ के लिए रवाना किए गए. ट्रेन में 631 श्रमिक समालखा से और 769 श्रमिक पानीपत से भेजे गए हैं. इन सभी को विभिन्न शेल्टर होम से बसों के माध्यम से रेलवे स्टेशन लाया गया. ट्रेन को रवाना करने से पूर्व सारी ट्रेन को सेनेटाइज किया गया और सभी श्रमिकों का हैल्थ चैकअप किया गया. यही नहीं, सभी श्रमिकों को खाने के पैकेट व पानी की बोतलें भी दी गई.

    गोपालगंज जाने वाले निरंजन, राजेश पासवान ने बताया कि वे पानीपत में पेंटिंग का काम करते थे. लॉकडाउन समाप्त होने के बाद वे वापिस आएंगे. इसी तरह दरभंगा जाने वाले पप्पू पासवान ने कहा कि कोरोना वायरस के चलते वे अपने घर जा रहे हैं. वे यहां टैंट की दुकान पर काम करते थे. दोबारा काम शुरू होने पर वापिस आएंगे. उन्होंने केन्द्र व प्रदेश सरकार, जिला प्रशासन और समाजसेवी संस्थाओं द्वारा दिए गए सहयोग की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनके सहयोग को वे हमेशा याद रखेंगे. वे सरकार का धन्यवाद करते हैं.

    About The Author

    Number of Entries : 6559

    Leave a Comment

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top