करंट टॉपिक्स

फलोदी में सम्पन्न हुआ त्रिवेणी पथ संचलन एवं शस्त्र पूजन

Spread the love

Triveni path sanchalan falodi- Sangamजोधपुर (विसंके). फलोदी में दुर्गाष्टमी के दिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का त्रिवेणी पथ संचलन आयोजित हुआ. फलोदी जिले की पांच तहसीलों के 15 खण्डों से कुल 5135 स्वयंसेवकों ने अलग-अलग तीन स्थानों पर पथ संचलन किया.

लटियालपुरा विद्यालय के सामने स्थित मैदान से फलोदी नगर एवं तहसील का शक्ति नामक संचलन प्रारंभ हुआ, शेरगढ और ओसियां तहसील के स्वयं सेवकों का शौर्य नामक संचलन राइकाबाग स्थित बाल हनुमान मंदिर से शुरू हुआ, बाप और लोहावट तहसील के स्वयंसेवकों का समरसता नामक संचलन मालियों का बास स्थित भैरू सराय से आरम्भ हुआ. लगभग साढ़े तीन कि.मी. के तीनों संचलनों का फलोदी की जनता ने पुष्प वर्षा, जयघोष, रंगोली आदि से स्वागत किया. तीनों पथ संचलनों का संगम  नगरपालिका चौराहे पर सायं तीन बजे हुआ.

falodi path sanchalanपथ संचलनों के संगम के पश्चात् आदर्श नगर सामुदायिक भवन के निकट सायं साढ़े 4 बजे शस्त्र पूजन एवं सभा आयोजित हुई, जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की केन्द्रीय कार्यकारिणी के सदस्य श्री इन्द्रेश कुमार, जोधपुर प्रान्त के संघचालक श्री ललितजी एवं फलोदी जिले के संघचालक श्री जगदीश सिंह जी ने शस्त्र पूजन किया.

श्री इन्द्रेश जी ने अपने उदबोधन में कन्या भ्रूण हत्या, समाज में व्याप्त बुराइयों, प्रदूषण, छूआछूत, हिंसा, बलात्कार जैसे अपराधों के कारणों और उनके उपाय पर प्रकाश डाला. उन्होंने संघ द्वारा चलाये जा रहे सेवा कार्यों की जानकारी दी. उन्होंने पूछा कि हिन्दुस्थान में रहने वाले सभी मतावलम्बियों के जब पूर्वज एक हैं, परम्परायें, मान्यतायें एक हैं, केवल पूजा पद्धति भिन्न है तो हम साथ-साथ क्यों नहीं रह सकते. अन्य मतावलम्बियों को भी यह बात अच्छी तरह से समझनी चाहिये. उन्होंने आह्वान किया कि अपराध मुक्त भारत का निर्माण हो, जिसके लिए समर्थ समाज के लोग एक-एक गरीब बच्चे को गोद लें और उनको शिक्षित कर रोजगार प्राप्त करने में समर्थ बनायें, जिससे वे अपराध के रास्ते पर न चल कर राष्ट्र के विकास में सभ्य समाज के साथ सहयोगी बनेंगे.

Shashtr poojan karyakram falodiश्री इन्द्रेश जी ने भ्रूण हत्या की कठोर निन्दा करते हुए कहा कि भ्रूण हत्या के पाप से देश और विश्व को मुक्त करना है तो कन्या का जन्म-दिवस भी धूमधाम से मनायें, जिससे समाज में कन्या व बालक के प्रति सामान स्नेह की भावना उत्पन्न हो और कोई भ्रूण हत्या के बारे में सोचे ही नहीं. उन्होंने बताया की संघ के डेढ़ लाख सेवा कार्य चल रहे हैं. अपने सेवा कार्यों के माध्यम से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सभी को भगवान की भाँति निःस्वार्थ बनकर जीने का मार्ग देता है.

उन्होंने शस्त्र पूजा के इस अवसर पर पाकिस्तान और चीन को चेताते हुए कहा कि अब भारत को कम आंकने की गलती नहीं करे, नक्सलियों को भी उन्होंने अपने सन्देश में कहा कि हिंसा के मार्ग से जीवन, रोटी और खुशियां नहीं मिलतीं.

falodi path sanchalan-श्री जगदीश सिंह जी ने फलोदी जिले का परिचय एवं सभी आगंतुकों का आभार प्रकट किया. इससे पूर्व 87 स्वयंसेवकों ने दण्ड प्रयोग एवं व्यायाम योग का प्रदर्शन तथा घोष दल ने घोष रचनाओं का वादन प्रस्तुत किया. कार्य विस्तार की दृष्टि से लक्षित स्थानों पर पहुंचना तथा सज्जन शक्ति को विश्वास और दुर्जन शक्ति को हताश होते देखने के उद्देश्य के साथ कार्यक्रम पूर्ण हुआ.

 

 

Shasht poojan Indresh ji- Falodi

Leave a Reply

Your email address will not be published.