करंट टॉपिक्स

मीडिया अपना फर्ज पहचाने

Spread the love

चंडीगढ़. विश्व संवाद केंद्र द्वारा विश्व के प्रथम पत्रकार नारद मुनि जी की जयंती पर आयोजित समारोह में बतौर मुख्य वक्ता दूरदर्शन केंद्र देहरादून के डायरेक्टर डा.के.के रत्तू ने के कहा कि हमें अपने पत्रकारिता के क्षेत्र में निष्पक्ष ढंग से ऐसा काम करना चाहिये, जो युवा पीढ़ी के लिये प्रेरणादायक हो, मगर चिंता की बात है कि आज मीडिया का जो स्वरूप नजर आने लगा है उसपर सवाल उठना लाजमी है. हमें उस पर मंथन करके मीडिया के स्तर को बनाये रखना है. ‘चुनाव 2014 और मीडिया’ सेमिनार के दौरान अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि वर्तमान चुनाव में हमारे नेताओं ने जैसी बयानबाजी की उस पर चुनाव आयोग को और सख्त होने की जरूरत है. राजनीतिक दलों, चुनाव आयोग के साथ-साथ मीडिया का भी फर्ज बनता है कि वह शालीनता में रहते हुये ईमानदारी से अपना कर्म करे.

विभिन्न वक्ताओं ने अपनी बात में कहा कि मिथक और यथार्थ में फंसती हुई पत्रकारिता समाज में कुछ और ही रूप दर्शाती है. मीडिया को ‘वॉच डाग’ बताते हुये उन्होंने कई सवाल उठाये. उन्होंने कहा कि मीडिया आज उन हाथों में चली गई है जो उसे बतौर व्यवसाय लेते है. उन्होंने यह भी कहा कि व्यक्तिगत अधिकार हर किसी का अधिकार है वह चाहे आम हो या खास उसकी निजता को खंड़ित नहीं किया जाने चाहिये. इस सेमिनार में सोशल मीडिया पर भी गंभीर चर्चा करते हुये उसके उपयोग और दुरूपयोग को बताया गया. मतदाताओं का भारी रूझान सोशल मीडिया की तरफ आकर्षित रहता है जो अपने पसंदीदा व्यक्ति विशेष से सीधे फेसबुक या ट्विटर के जरिये जुड़ते है.

पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड मोहाली के वाईस चेयरमैन डा.कुलदीप चंद अग्निहोत्री तथा हिंदुस्तान टाईम्स के लीगल एडीटर श्री सत्यप्रकाश ने अपने विचार रखते हुये चुनाव और मीडिया पर बेबाक टिप्पणी की. समारोह के दौरान परिचय पंजाब के प्रभारी राम गोपाल जी ने दिया तथा मंच का संचालन अशोक मलिक जी ने किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.