करंट टॉपिक्स

लखनऊ – प्रतिदिन 35 राहत केंद्रों के माध्यम से 8 हजार लोगों तक पहुंच रही राहत

Spread the love

74000 भोजन पैकेट वितरित किए, 2000 परिवारों को राशन सामग्री प्रदान की

महानगर में विभिन्न संस्थाएं उपलब्ध करवा रहीं भोजन पैकेट

लखनऊ. कोरोना संकट के कारण घोषित लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद परिवारों की सहायता के लिए लखनऊ में भी सेवा भारती व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक दिनरात परिश्रम कर रहे हैं. अन्य वैचारिक संगठनों के कार्यकर्ता भी सहयोग कर रहे हैं. सेवा कार्यों के तहत भोजन उपलब्ध करवाना, राशन सामग्री, दवा उपलब्ध करवाना, चिकित्सकीय परामर्श में भी सहयोग किया जा रहा है. लखनऊ महानगर में कुल 35 राहत केंद्र बनाए गए हैं, जिनके माध्यम से सेवा कार्य चल रहे हैं

लखनऊ महानगर में सेवाभारती की ओर से चार स्थानों पर आयुष्मान ग्रांड होटल देवा रोड, संघ कार्यालय सेक्टर क्यू अलीगंज, सियाराम जानकी गेस्ट हाउस बुद्धेश्वर, महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज आशियाना में बड़े केन्द्र बनाए गए हैं. जहां से 25 किलो का राहत पैकेट जरूरतमंद लोगों को वितरण के लिए भेजा जा रहा है. महानगर में विभिन्न स्थानों पर बनाए राहत केंद्रों के माध्यम से बेघर लोगों, मजदूरों, रिक्शा चालकों आदि अभी तक 75000 भोजन के पैकेट वितरित किए जा चुके हैं. साथ ही 50 से अधिक सेवा बस्तियों में स्वयंसेवकों द्वारा हर स्तर पर सहयोग किया जा रहा है. अभी तक दो हजार परिवारों को राशन सामग्री किट (25 किलो) वितरित की गई है, 500 स्वयंसेवक सेवा कार्य में जुटे हैं, जिससे प्रतिदिन 8 हजार व्यक्ति लाभान्वित हो रहे हैं.

स्वयंसेवकों द्वारा चलाए जा रहे सेवा कार्यों में विभिन्न संस्थाओं का भी सहयोग मिल रहा है. रस्तोगी समाज, दुर्गा मंदिर रकाबगंज, रियल स्टेट एसोसिएशन, हरिओम मंदिर लालबाग, स्वदेशी जागरण मंच, रेड ब्रिगेड सहित अन्य संस्थाएं प्रतिदिन भोजन पैकेट वितरण के लिए सेवा भारती को उपलब्ध करवा रही हैं. उद्योगपति अरविंद जैन ने अपना देवा रोड स्थित होटल आयुष्मान ग्रैंड सेवा भारती को उपयोग के लिए दिया है, वहां से सामुदायिक किचन व आपदा राहत शिविर चल रहा है.

राशन केन्द्रों व नगर निगम का सहयोग कर रहें हैं कार्यकर्ता

स्वयंसेवक सरकारी राशन की दुकानों पर वितरण के समय लगने वाली लाइन में सोशल डिस्टेंसिंग व सेनेटाइजेशन के कार्य में भी सहयोग कर रहे हैं.

विद्या भारती स्कूल के भवन में बनाया आइसोलेशन सेंटर

सबसे बड़े शैक्षिक संगठन विद्या भारती ने निराला नगर स्थित माधव सभागार में ‘दत्तोपंत ठेंगड़ी अंत्योदय आइसोलेशन सेंटर’ स्थापित किया है. शासन से अनुमति मिलने के बाद कोरोना संदिग्ध रोगियों के लिए प्राथमिक स्तर पर 15 बेड का आइसोलेशन सेंटर बनाया गया है.

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ओर से छात्रावासों व कोचिंग के लिए राजधानी में रह रहे छात्र-छात्राओं का पूरा सहयोग किया जा रहा है. इनके लिये विद्यार्थी परिषद राशन व पाठ्य सामग्री की कमी ना हो, इसका पूरा ध्यान रख रही है. साथ ही विद्यार्थी परिषद की मैडविजन आयाम ने प्रतिदिन सुबह 10 से 12 बजे, तथा सायं 5 बजे से 7 बजे तक स्वास्थ्य संबंधी परामर्श के लिये हेल्पलाइन नम्बर जारी किया है, यहां प्रतिदिन 19 एलोपैथिक व 6 आयुर्वेदिक चिकित्सक उपलब्ध रहते हैं.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *