लोक कल्याण के लिए संवाद आवश्यक – प्रशांत पोल Reviewed by Momizat on . देहरादून (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र के तत्वाधान में नारद जयन्ती कार्यक्रम आई.आर.डी.टी. सभागार, देहरादून में आयोजित किया गया. मुख्य वक्ता के रूप में प्रशांत देहरादून (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र के तत्वाधान में नारद जयन्ती कार्यक्रम आई.आर.डी.टी. सभागार, देहरादून में आयोजित किया गया. मुख्य वक्ता के रूप में प्रशांत Rating: 0
    You Are Here: Home » लोक कल्याण के लिए संवाद आवश्यक – प्रशांत पोल

    लोक कल्याण के लिए संवाद आवश्यक – प्रशांत पोल

    देहरादून (विसंकें). विश्व संवाद केन्द्र के तत्वाधान में नारद जयन्ती कार्यक्रम आई.आर.डी.टी. सभागार, देहरादून में आयोजित किया गया. मुख्य वक्ता के रूप में प्रशांत पोल जी उपस्थित रहे. कार्यक्रम की अध्यक्षता ओएनजीसी महाप्रबंधक इन्द्र सिंह नेगी ने की.

    प्रशांत पोल ने कहा कि नारद पुराण, नारद संहिता, नारद ज्योतिष आदि साहित्य में लोक कल्याण के लिए नारद जी ने संवाद को प्रमुख माना है. वर्तमान में संवाद को विसंवाद करने का प्रयास भी किया जा रहा है, इससे बचना चाहिए क्योंकि आज का संवाद टीआरपी और कमाई करने के लिए व्यवसाय बनता जा रहा है.

    नारद जयन्ती समारोह के मुख्य अतिथि अरविन्द सिंह बिष्ट (वरिष्ठ पत्रकार एव पूर्व सूचना आयुक्त उ.प्र.) ने समाचार के महत्व पर कहा कि आज का यह कार्यक्रम पूरे समाज में मनाना चाहिए. देश में सर्वप्रथम पत्रकारिता का उद्देश्य देश की आजादी से था, अब उसका स्वरुप बदल गया है और मीडिया ज्यादा सशक्त बन गया है. समाचार को देखकर, पढ़ कर हम अपनी धारण बनाते हैं क्योंकि सही सूचना समाज में सही दिशा प्रदान करती है.

    समारोह के विशिष्ट अतिथि डॉ. प्रकाश थपलियाल (पूर्व संयुक्त निदेशक प्रसार मंत्रालय भारत सरकार) ने कहा कि सर्वप्रथम आदि पत्रकार नारद जी ही हैं क्योंकि वर्तमान युग का संवाद मीडिया का कार्य उस समय नारद जी ही करते थे.

    इंद्र सिंह नेगी ने कहा कि पत्रकारिता का मुख्य कार्य लोक हिताय लोक सुखाय है. विषय, कथन और दर्शन जब मिलता है, तब सही पत्रकारिता होती है.

    समारोह में किशोर अरोड़ा (ए.एन.आई.), गजेन्द्र सिंह नेगी (पायनियर), मीना नेगी (दैनिक जागरण), पवन नौटियाल, कपिल गर्ग न्यूज पोर्टल और दैनिक जागरण के छायाकार अनिल डोगरा को प्रशस्ति पत्र, स्मृति चिह्न और शाल भेंट कर सम्मानित किया गया.

    सामाजिक समरसता मंच द्वारा डॉ. भीमराव अम्बेडकर प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता परीक्षा में प्रथम रहे 19 विद्यालय के छात्रों को स्मृति चह्नि और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया.

    About The Author

    Number of Entries : 5597

    Leave a Comment

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top