करंट टॉपिक्स

संवेदनशील समाज – दिव्यांग एक साल तक वेतन का 30 प्रतिशत PM-CARES में देंगे

Spread the love

सीडीएस जनरल रावत भी एक साल तक हर माह 50 हजार रुपये PM-CARES में देंगे

दक्षिणी दिल्ली के गांव सैदुलाजाब के ग्रामीणों ने PM-CARES में दिए 11 लाख

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) से अब तक सवा लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं. जबकि इस वायरस ने अब 3867 लोगों की जान ली है. संकट की घड़ी में समाज के लोग लगातार सहायता के लिए सामने आ रहे हैं. अपनी इच्छा और सामर्थ्य के अनुसार PM-CARES में राशि दे रहे हैं. मंदिर, उद्योगपति, फिल्म जगत, सामाजिक-धार्मिक संस्थाएं, सहयोग दे रहे है. कोरोना के खिलाफ जंग में सहयोग के लिए एम्स का दिव्यांग फेडरेशन भी सामने आया है. पिछले दिनों फेडरेशन  ओर से निःशुल्क मास्क बांटे गए. इसके साथ ही दिव्यांग फेडरेशन के अध्यक्ष संतदेव चौहान ने अपने वेतन से 30 प्रतिशत राशि पीएम केयर्स में देंगे.

संतदेव चौहान अगले साल फरवरी तक अपने वेतन से 30 फीसदी राशि दान में देंगे. संतदेव पहले ही मार्च और अप्रैल में 11-11 हजार रुपये दे चुके हैं. उन्होंने स्वयं अपने विभाग में आवेदन दिया है. उन्होंने अपने वेतन से मई 2020 से फरवरी 2021 तक हर महीने 30 प्रतिशत पीएम केयर्स फंड में देने को कहा है.

सीडीएस वेतन का 20 प्रतिशत एक साल तक पीएम केयर्स में देंगे

सीडीएस जनरल बिपिन रावत अगले एक साल तक हर माह अपने मासिक वेतन का 20 प्रतिशत पीएम केयर्स में दान देंगे. उन्होंने पहले माह में 50 हजार रुपये की राशि दान कर दी है. सेना अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी प्रदान की. जनरल रावत अगले साल मार्च तक ऐसा करते रहेंगे. वह कुल मिलाकर कुल छह लाख दान में देंगे.

दक्षिणी दिल्ली के ग्रामीणों ने PM-CARES में दिए 11 लाख रुपये

दक्षिणी दिल्ली के एक गांव सैदुलाजाब ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में लोगों के सामने एक उदाहरण प्रस्तुत किया. गांव के लोगों ने स्थानीय एडीएम को अपने गांव में बुलाकर उन्हें कोरोना वॉरियर्स के रूप में सम्मानित किया, साथ ही गांव के प्रधान ने गांव के लोगों की ओर से उन्हें PM-CARES के लिए 11 लाख रुपये का चेक सौंपा.

गांव वालों ने 18 सफाई कर्मी, 12 पुलिसकर्मी और छह मीडिया कर्मियों को भी कोरोना वॉरियर्स के रूप में सम्मानित किया. गांव निवासी गोकुल चंद्र यादव ने बताया कि देश महामारी के दौर से गुजर रहा है. लोगों की सेवा में लगे पुलिस कर्मी, सफाई कर्मी और स्वास्थ्य कर्मी अपनी जान दांव पर लगा रहे हैं. ऐसे में हमारे गांव ने अपना सहयोग देने का निर्णय लिया. इसके बाद गांव में एक समिति बनाई गई. इस समिति ने लोगों के घरों तक जाकर PM-CARES में पैसा जमा करने के लिए लोगों से चंदा एकत्र किया. यह सारा पैसा गांव के लोगों ने दिया है.

लोग आ रहे हैं मदद के लिए

लॉकडाउन की वजह से सरकार की आमदनी भी लगभग ठप है. ऐसे में सरकार ने देश की जनता से मदद की अपील की है. पीएम नरेंद्र मोदी ने पीएम केयर्स फंड में लोगों को दान करने के लिए कहा जिसके बाद लगातार लोग फंड में दान कर रहे हैं.

 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *