करंट टॉपिक्स

सहकारिता को बढ़ावा देने के लिये संस्कारवानों की जरूरत : राधामोहन सिंह

Spread the love

Sahkar Bharati- Lucknowलखनऊ. (हि.स.). केन्द्रीय कृषि एवं सहकारिता मंत्री राधा मोहन सिंह ने रविवार, 9 नवंबर को लखनऊ में कहा कि समाज को मजबूत बनाना है तो सहकारिता को बढ़ावा देना होगा. इसके लिये सहकारी समितियों में संस्कारवान नेतृत्व खड़ा करने की जरूरत है. व्यक्ति को परिवार और परिवार के साथ जोड़ना होगा. वह राजधानी के निरालानगर स्थित माधव सभागार में आयोजित सहकारिता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे.

केन्द्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि सहकारिता का काम बड़े पैमाने पर नीचे तक ले जाने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि देश को मजबूत बनाने की बात करने वाले लोग पूरी निष्ठा के साथ परिवार को मजबूत बनाने में लग गये. राजनीतिज्ञों ने सहकारी समितियों को फैमिली कोऑपरेटिव बना लिया है. एक की अध्यक्ष सोनिया गांधी हैं तो दूसरे के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव हैं.

श्री सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जन धन योजना के माध्यम से आम आदमी को आर्थिक रूप से शसक्त बनाने का काम किया है. आजादी के बाद पहली बार किसी ने समाज को यह संदेश दिया कि शासक सेवक होता है.

केन्द्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि हिन्दुस्थान की जीवन रेखा है. कांग्रेस सरकार ने किसानों की चिंता नहीं की. सहकारिता संस्कारवान लोगों के पास नहीं रही तो भी समस्या है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भारत को भारत की दृष्टि से देखना होगा. इटली के नजरिये से देखने से काम नहीं होगा. उन्होंने कहा कि जितनी इटली की आबादी है. उतनी आबादी हमारे लोकसभा क्षेत्र की है.

श्री सिंह ने कहा कि लोगों का विश्वास हमारे ऊपर है. इस विश्वास को बनाये रखना हमारा काम है. हरियाणा और महाराष्ट्र में यह सिद्ध हो चुका है. उपचुनाव प्रदेश की जनता के विचारों का प्रकटीकरण नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.