हनुमान जी के जन्मस्थान किष्किन्धा पर्वत पर ‘हनुमान माला अभियान’ में हजारों सम्मिलित Reviewed by Momizat on . किष्किंधा पर्वत, कर्नाटक. बजरंगदल उत्तर कर्नाटक द्वारा बेल्लारी जिले के किष्किंधा पर्वत पर हनुमान जी के जन्मस्थान की यात्रा की जाती है, यह यात्रा 2012 से प्रारम किष्किंधा पर्वत, कर्नाटक. बजरंगदल उत्तर कर्नाटक द्वारा बेल्लारी जिले के किष्किंधा पर्वत पर हनुमान जी के जन्मस्थान की यात्रा की जाती है, यह यात्रा 2012 से प्रारम Rating: 0
    You Are Here: Home » हनुमान जी के जन्मस्थान किष्किन्धा पर्वत पर ‘हनुमान माला अभियान’ में हजारों सम्मिलित

    हनुमान जी के जन्मस्थान किष्किन्धा पर्वत पर ‘हनुमान माला अभियान’ में हजारों सम्मिलित

    किष्किंधा पर्वत, कर्नाटक. बजरंगदल उत्तर कर्नाटक द्वारा बेल्लारी जिले के किष्किंधा पर्वत पर हनुमान जी के जन्मस्थान की यात्रा की जाती है, यह यात्रा 2012 से प्रारम्भ हुई, जिसमे हजारों की संख्या में कार्यकर्ता और दर्शनार्थी शामिल होते है.

    DSC_0427इस वर्ष की यात्रा में बजरंगदल राष्ट्रीय संयोजक श्री राजेश पाण्डेय जी, विश्व हिन्दू परिषद की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राज माता श्रीमती चन्द्र कांता देवी जी शामिल हुई. गंगावती तालुका में बड़ी शोभयात्रा निकाल कर गंगावती में स्थित मंदिर में आरती का आयोजन किया गया, जिसके बाद सभी कार्यकर्ताओं ने हनुमान जी के दर्शन किये और संकल्प लिया कि “राम काज कीन्हे बिना मोहे कहां विश्राम” और बजरंगदल राष्ट्रीय संयोजक श्री राजेश पाण्डेय जी ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि “बूढ़ा अमरनाथ की तर्ज पर भारत के सभी प्रांतो पर ऐसी वार्षिक धार्मिक यात्रा निकाली जायेगी जैसे हम्पी की यात्रा, दक्षिण कर्नाटक में दत्तापीठ की यात्रा. महाराष्ट्र के रायगढ़ की यात्रा भी प्रारंभ होगी”.

    यात्रा में कर्नाटक के प्रांत संयोजक श्री सूर्यनारायण, उत्तर कर्नाटक के श्री स्वरुप, प्रांत मंत्री श्री रमेश कुलकर्णी और पूज्य संत एवं प्रमुख लोगो की भागीदारी रही.

    DSC_0584

     

     

     

     

     

     

    DSC_0539

     

     

     

     

     

     

     

    DSC_0653

    About The Author

    Number of Entries : 5347

    Leave a Comment

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top