करंट टॉपिक्स

हरिद्वार में नव सृजन शिविर 28 नवंबर से

Spread the love

unnamedदेहरादून (विसंके). स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि जिस देश की युवा पीढ़ी के मन में भूत का गौरव, वर्तमान की पीड़ा और भविष्य का स्वप्न रहता है, वही देश महान बनता है. स्वामी जी के उसी बोध वाक्य के मार्गदर्शन में आगामी 28 से 30 नवम्बर तक हरिद्वार के पतंजलि योगपीठ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  उत्तराखण्ड द्वारा युवाओं के लिये नव सृजन शिविर का आयोजन किया जा रहा है. इस शिविर के माध्यम से विवेकानंद सार्धशती समारोह के दौरान संघ के संपर्क में आये युवाओं का मार्गदर्शन किया जायेगा.

विश्व संवाद केन्द्र में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में प्रांत प्रचारक डा. हरीश जी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि 2012 विवेकानंद सार्धशती समारोह के बाद 2013 में संघ के सम्पर्क में आये युवाओं को चिन्हित कर महाविद्यालय प्रमुख, जिला प्रमुखों का दायित्व दिया गया. इसके बाद इन कालेजों के छात्रावास प्रमुखों को अभ्यास वर्ग आयोजित कर प्रशिक्षित किया गया.  2014 के प्रारम्भ में ही जिला प्रमुख, छात्रावास प्रमुख, कॉलेज प्रमुखों का अभ्यास वर्ग किया गया. 2014 के जुलाई-अगस्त में जिले के अनुसार अभ्यास वर्ग किये गये. इनमें युवाओं की संख्या 4 हजार रही. समय देने वाले कार्यकर्ताओं के चयन की योजना तैयार की गयी. इसके तहत 50 नये युवा कार्यकर्ता निकले. 9 नवम्बर को सभी जिला केन्द्रों पर 4 घण्टे का अभ्यास वर्ग किया गया जिसमें युवाओं की संख्या साढ़े तीन हजार रही. संघ की विचारधारा युवाओं तक पहुंचाने के लिये ज्वॉइन आरएसएस के तहत देश में 7 हजार और उत्तराखण्ड में 50 युवा आगे आये. शिविर का उद्घोष है- सोचो, करो और समय दो(थिंक फॉर उत्तराखण्ड, वर्क फॉर उत्तराखण्ड एण्ड वन ईयर फॉर उत्तराखण्ड)

unnamed (2)डा0 हरीश जी ने बताया कि पतंजलि योगपीठ में आयोजित होने वाले इस शिविर में युवाओं के मध्य पर्यावरण, रक्तदान, वृक्षारोपण, जल संचयन, सीमा सुरक्षा, नेत्रदान, गंगा की निर्मलता, स्वभाषा, स्वदेशी अपनाओ और चीन निर्मित वस्तुओं से बचने, आरोग्य रक्षा के अलावा विभिन्न विषयों पर चर्चा की जायेगी. शिविर में उत्तराखण्ड के वैज्ञानिक, वर्तमान व पूर्व लोक कलाकार, भारतीय संस्कृति शून्य से शिखर तक, लोकनायक उत्तराखण्ड, धार्मिक आस्था की शान, उत्तराखण्ड के क्रांतिकारियों के प्रेरक चित्रों की प्रदर्शनी भी आयोजित की जायेगी.

उन्होंने बताया कि शिविर में युवाओं को परमपूज्य सरसंघचालक मोहन जी भागवत, आनंद कुमार जी (सुपर-30), राज्यवर्धन सिंह राठौर जी (विश्वविख्यात निशानेबाज), योगगुरु बाबा रामदेव जी, योगाचार्य बालकृष्ण जी, आरएसएस के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य इंद्रेश कुमार जी, फार्मा एण्ड फार्मर्स के सह संस्थापक के मनीष कुमार जी का मार्गदर्शन प्राप्त होगा.

शिविर के कार्यक्रम-

24 नवंबर भूमि पूजन एवं यज्ञ

26 नवंबर पत्रकार वार्ता एवं प्रदर्शनी का उद्घाटन

28 नवंबर उद्घाटन समारोह

29 नवंबर शिविर की जानकारी

30 नवंबर सार्वजनिक समारोह

Leave a Reply

Your email address will not be published.