करंट टॉपिक्स

कच्छ – निधि समर्पण अभियान के निमित्त आयोजित राम रथ यात्रा पर हमला

गांधीधाम (कच्छ-भुज). श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान मकर संक्रांति से पूरे देश में प्रारंभ हो चुका है. गुजरात में भी अभियान चल रहा है. इसी क्रम में गांधीधाम तहसील के अंतर्गत भी अभियान चल रहा है. जिसमें मुन्द्रा में निधि समर्पण अभियान समिति के कार्यकर्ता राम रथ के साथ गांव-गांव में जनजागरण और निधि समर्पण के लिए जा रहे हैं.

यात्रा के दौरान राम रथ जब मुन्द्रा-गांधीधाम तहसील के कीडाणा गांव पहुंचा तो पूर्व नियोजित साजिश के तहत राम रथ पर पत्थरों व घातक हथियारों से हमला कर दिया. भीड़ ने घात लगाकर राम रथ को नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया. कार्यकर्ताओं ने रथ को बचाने का प्रयास किया. इसी दौरान पथराव में कुछ कार्यकर्ताओं को गंभीर चोटें आई हैं.

पथराव के बीच ही पुलिस को घटना के बारे में जानकारी दी गई. पुलिस के पहुंचने से पूर्व ही दंगाईयों ने कुछ वाहनों को आग के हवाले कर दिया, कुछ घरों में भी आग लगा दी.

पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर भीड़ को तितर-बितर करने के लिए टीयरगैस का उपयोग किया. लेकिन, मौके पर पहुंची पुलिस का रवैया भी पक्षपात पूर्ण और हिन्दू विरोधी रहा. पुलिस यात्रा में शामिल राम रथ को बचाने का प्रयास कर रहे कार्यकर्ताओं को ही गिरफ्तार करके थाने ले गई और मुकदमा दर्ज किया.

घटनास्थल से 300 से 400 मीटर की दूरी पर एक श्रमिक का शव मिला है. इसकी मौत के कारणों को लेकर भी पुलिस छानबीन कर रही है.

समुदाय के दंगाईयों द्वारा भय का माहौल निर्माण करने तथा पुलिस के पक्षपाती रवैये को लेकर लोगों ने रोष जताया और 18 जनवरी को एसपी मुख्यालय तक शांति मार्च निकाला. इस दौरान पुलिस अधिकारियों ने बातचीत में निर्दोष लोगों को छोड़ने का आश्वासन दिया, लेकिन उन्हें छोड़ा नहीं गया है.

इसके पश्चात विश्व हिन्दू परिषद के प्रदेश महामंत्री अशोक भाई रावल ने पुलिस मुख्यालय के सामने धरना दिया. पुलिस ने उन्हें भी हिरासत में लिया था, लेकिन देर शाम छोड़ दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *