करंट टॉपिक्स

राम फिर लौटे

अयोध्या आन्दोलन अपने मकसद में सफल रहा. मंदिर तो बन गया. अब आगे क्या? यह मंदिर किन भारतीय सांस्कृतिक मूल्यों का ऊर्जा पुंज बनेगा. यह...

#TheVaccineWar – अब देश के वास्तविक नायकों को पहचानने का समय

बुरा वक्त सीख और सबक देकर जाता है. और यह वक्त आप जी गए तो जीत की कहानी बनती है. #TheVaccineWar केवल सर्वाइवल की नहीं,...

यात्रा वृतांत – प्राकृतिक सौंदर्य एवं ऐतिहासिक विरासत से समृद्ध है चंदेरी

विंध्याचल पर्वत शृंखलाओं के मध्य स्थित चंदेरी का किला सुनाता है वीरांगनाओं के शौर्य की कहानियां लोकेन्द्र सिंह मध्यप्रदेश के जिला अशोकनगर में बेतवा (बेत्रवती)...

“न जमीं मिली, न फलक मिला”

डॉ. वंदना गांधी “मेरा नाम शालिनी उन्नीकृष्णन था, नर्स बनकर लोगों को सर्व करना चाहती थी. अब फातिमा हूँ, आईएसआईएस टेरेरिस्ट.” फिल्म की अदाकारा का...

फिल्म समीक्षा – जातिवाद का धीमा जहर दे रही “भीड़”

प्रवासी मजदूरों के नाम पर दर्शकों के साथ भावनात्मक खिलवाड़ ! फिल्म समीक्षा - “भीड़” कलाकार : पंकज कपूर, आशुतोष राणा, राजकुमार राव, भूमि पेडणेकर,...

पुस्तक समीक्षा – ‘राजस्थान की वनविहारी जनजातियां’

जनजातियों का प्राचीन युग बहुत ही गौरवपूर्ण रहा है, परंतु अंग्रेजों के कथानक व शब्दों के कारण समाज में कई प्रकार के नकारात्मक दृष्टिकोण, नजरिये...

पुस्तक समीक्षा – उज्ज्वल भविष्य की राह दिखाता ‘सनातन भारत’ ग्रन्थ

मुकेश गुप्ता हिंदी विवेक मासिक पत्रिका द्वारा प्रकाशित ‘सनातन भारत’ ग्रन्थ, ज्ञान-विज्ञान-विवेक का ऐसा त्रिवेणी संगम है, जिसमें जितना गहराई में उतरेंगे उतने ही ज्ञान...

पुस्तक समीक्षा – ‘हिन्दुत्व और गांधी’; एक ही है गांधी जी और आरएसएस का ‘हिन्दुत्व’

लोकेन्द्र सिंह कुछ लोग मेरे इस कथन से असहमत हो सकते हैं कि “गांधी जी का जीवन हिन्दुत्व में रचा–बसा था”. असहमतियों का सम्मान है,...

संघ विचार से परिचित कराती पुस्तक ‘संघ दर्शन : अपने मन की अनुभूति’

डॉ. मयंक चतुर्वेदी लेखक लोकेन्‍द्र सिंह की पुस्‍तक ‘संघ दर्शन : अपने मन की अनुभूति’ को आप राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ को समझने का एक आवश्‍यक...

खेल पत्रकारिता की बारीकियां सिखाती एक पुस्तक

लोकेन्द्र सिंह “खेल में दुनिया को बदलने की शक्ति है, प्रेरणा देने की शक्ति है. यह लोगों को एकजुट रखने की शक्ति रखता है, जो...