You Are Here: Home » बैनर स्लाइडर

    मूल्यों का ध्यान रख, उन पर कायम रहते हुए परिवर्तन करना है – डॉ. मोहन भागवत

    श्रद्धेय दत्तोपंत ठेंगड़ी जन्मशताब्दी समारोह का शुभारंभ नागपुर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि दत्तोपंत ठेगड़ी जी संघ परिवार के उन शख्सियतों में आते हैं, जिनमें तत्व चिंतक, उत्कृष्ट व्यक्तित्व और बेहतर संगठक के गुण थे. समाज के हर क्षेत्र में उनका समान नेतृत्व था. उनके सम्पर्क में जो भी रहा, उसे कुछ न कुछ सीखने को ही मिला है. उन्हें स्नेह, करुणा और नेतृत्व के गुण अप ...

    Read more

    शिक्षा में जीवन मूल्यों, संस्कृति व संस्कारों का भी समावेश हो

    मेरठ में दो दिवसीय ज्ञानोत्सव का आयोजन मेरठ. शिक्षा संस्कृति उत्थान न्यास के राष्ट्रीय सचिव अतुल कोठारी जी ने कहा कि ‘देश को बदलना है तो शिक्षा को बदलना होगा. बड़ी-बड़ी बात करने के बजाए, छोटी-छोटी बातों को जीवन में धारण करना होगा. देश के लिए मरने के बजाए, देश के लिये जीना सीखें. शिक्षा में जीवन की दृष्टि प्राप्त होनी चाहिए. हर व्यक्ति शिक्षा पाकर नौकर बनना चाहता है. जबकि शिक्षा ऐसी ग्रहण करो कि दूसरों को नौकर ...

    Read more

    श्री रामजन्मभूमि मामले पर सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय पर सरसंघचालक मोहन भागवत जी की प्रेस वार्ता

    श्री रामजन्मभूमि के संबंध में मा. सर्वोच्च न्यायालय द्वारा इस देश की जनभावना, आस्था एवं श्रद्धा को न्याय देने वाले निर्णय का राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ स्वागत करता है। दशकों तक चली लंबी न्यायिक प्रक्रिया के बाद यह विधिसम्मत अंतिम निर्णय हुआ है। इस लंबी प्रक्रिया में श्री रामजन्मभूमि से संबंधित सभी पहलुओं का बारीकी से विचार हुआ है। सभी पक्षों के द्वारा अपने-अपने दृष्टिकोण से रखे हुए तर्कों का मूल्यांकन हुआ। धैर ...

    Read more

    अयोध्या – वामपंथी झूठ की कालिख से रंगे पन्ने और चेहरे

    तीन दशकों तक जाली प्रमाण, बोगस बातें और झूठ के पुलिंदों के सहारे मंदिर के अकाट्य प्रमाणों को झुठलाने की कोशिश की गई. अदालत में झूठे साबित होते रहे, पर बाहर वही झूठ दोहराते चले गए. हिन्दू संस्कृति को सब बुराइयों की जड़ कहने वाले और पूजा-उपासना को अफीम कहने वाले वापंथियों ने हमेशा भारत के इतिहास को विकृत करके प्रस्तुत किया. कांग्रेस से उनका एक अलिखित समझौता रहा, जिसके अंतर्गत वामपंथियों को शिक्षा और कला संस्था ...

    Read more

    भारत में शिक्षा ज्ञानवर्धन के लिए रही है, केवल जीवनयापन के लिए नहीं – अनिरुद्ध देशपांडे जी

    विमर्श 4.0 नई दिल्ली. नॉर्थ कैम्पस के कॉन्फ्रेंस सेंटर में युवा (यूथ यूनिटड़ फॉर विज़न एन्ड एक्शन) के तीन दिवसीय (02 से 04 नवंबर) वार्षिक समागम "विमर्श-2019" का शनिवार को शुभारंभ हुआ. आयोजन का उद्देश्य छात्रों को अकादमिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से राष्ट्र सेवा की ओर अग्रसर करना है. कार्यक्रम के पहले दिन उद्घाटन सत्र "जागृत भारत" विषय पर चर्चा के साथ प्रारंभ हुआ. विमर्श – 2019 के संयोजक सौरभ ने ‘वि ...

    Read more

    भारतीय ज्ञान का खजाना – हमारी वैश्विक विरासत ‘धातु का आईना’

    हमारी वैश्विक विरासत – धातु का आईना केरल के दक्षिण में, लेकिन थोड़ा अंदर जाकर, मध्य में एक छोटा सा कस्बा है – अरणमुला. तिरुअनंतपुरम से 116 किलोमीटर की दूरी पर बसा हुआ यह कस्बा राष्ट्रीय महामार्ग पर नहीं है, किन्तु अनेक कारणों से प्रसिद्ध है. पंपा नदी के किनारे बसे हुए इस अरणमुला कस्बे को खास तौर पर पहचाना जाता है, वहां होने वाली नावों की प्रतियोगिता के लिए. ‘स्नेक बोट रेस’ नाम से होने वाली इस प्रतियोगिता को ...

    Read more

    स्वयंसेवक देशभर में डेढ़ लाख से अधिक सेवा प्रकल्प चला रहे – भय्याजी जोशी

    भुवनेश्वर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक देशभर में 1.50 लाख से अधिक सेवा कार्य चला रहे हैं. 20 स्थानों पर सेवार्थ बड़े अस्पताल एवं 15 ब्लड बैंक भी चलाते हैं. भुवनेश्वर में चल रही संघ की अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक के अंतिम दिन आयोजित पत्रकार सम्मेलन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह भय्याजी जोशी ने कहा कि आपदा के समय तो संघ पहले से ही काम कर रहा था, परंतु 1989 से संघ ने योजनाबद्ध रूप स ...

    Read more

    हिन्दू धर्म नहीं संस्कृति है और भारत का प्रत्येक निवासी हिन्दू है – डॉ. मोहन भागवत

    ओडिशा. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने भारत को परिभाषित करते हुए कहा कि भारत पश्चिमी अवधारणा वाला देश नहीं है. यह सनातन काल से एक सांस्कृतिक देश रहा है. अतः भारत को देखने का पश्चिमी नजरिया गलत है. वास्तव में भारत ऐसा देश है, जिसने विश्व को मानवता का पाठ पढ़ाया है. हमारी सभ्यता में अनेक सभ्यताओं को समाहित करने की शक्ति है. तभी भारत अनेक भाषा, वेशभूषा, धर्म, पंथ को मानने वाला देश बन ...

    Read more

    अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण का मुद्दा राजनैतिक नहीं, देश की आस्था का विषय है – डॉ. मनमोहन वैद्य

    देश में संघ कार्य का निरंतर विस्तार हो रहा है पश्चिम बंगाल में राष्ट्रीय विचारों के लोगों की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण भुवनेश्वर (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. मनमोहन वैद्य जी ने कहा कि संघ के स्वयंसेवकों के कठोर परिश्रम एवं सतत प्रयास और समाज की अनुकूलता के कारण संघ कार्य का लगातार विस्तार हो रहा है. विशेष कर युवा व छात्र संघ से जुड रहे हैं. स्थानीय शिक्षा व अनुसंधान विश्वविद्यालय में र ...

    Read more

    संगठित सज्जन शक्तियां करेंगी बुरी वृत्तियों का दहन – रेखा राजे

    दिल्ली में राष्ट्र सेविका समिति का विजयादशमी उत्सव नई दिल्ली. राष्ट्र सेविका समिति दिल्ली प्रान्त के पूर्वी विभाग ने विजयादशमी के उपलक्ष्य में शस्त्र पूजन एवं पथ संचलन का कार्यक्रम आयोजित किया. 13 अक्तूबर को शाम 4 बजे गणेश नगर कांपलेक्स समुदाय भवन में कार्यक्रम का शुभारम्भ हुआ. इसमें मुख्य वक्ता के रूप में राष्ट्र सेविका समिति की अखिल भारतीय सह कार्यवाहिका रेखा राजे जी उपस्थित रहीं. वे पिछले 36 वर्षों से दे ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top