करंट टॉपिक्स

कोई ऊंचा नहीं, कोई नीचा नहीं, सब भगवान के स्वरूप हैं

(श्री गुरुजी के समरसता के सूत्र) हम तो समाज को ही भगवान मानते हैं, दूसरा हम जानते नहीं. समष्टिरूप भगवान की सेवा करेंगे. उसका कोई...

भारत प्राचीनकाल से एक राष्ट्र था, आज भी एक राष्ट्र है और सृष्टि के अंत तक एक रहेगा

भारत एक राष्ट्र है न कि राज्यों का गठबन्धन राकेश सैन गत दिनों ‘इण्डी’ गठजोड़ के मुख्य घटक दल द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (डीएमके) के सांसद...

‘शिवलिंग’ क्या हैं …?

स्मरण रखें.... हम कालजयी, वैज्ञानिक, सनातन संस्कृति के संवाहक हैं. प्रशांत पोळ वर्ष २०२२ के मई में जब काशी के ज्ञानव्यापी परिसर में सर्वे हुआ...

श्री रामलला प्राण प्रतिष्ठा समारोह – एक नए युग का ऐतिहासिक शुभारम्भ

रामलाल अखिल भारतीय संपर्क प्रमुख राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ 22 जनवरी 2024 को, अयोध्या की प्राचीन नगरी में एकता, श्रद्धा, भक्ति और समरसता का अविस्मरणीय संगम...

श्रीरामलला प्राण प्रतिष्ठा – संघ ने समाज जागरण और संगठन किया

संघ ने तय किया है कि हम केवल व्यक्ति निर्माण, समाज संगठन और राष्ट्रीय चेतना का जागरण करेंगे. राष्ट्रीय दृष्टि से जाग्रत ऐसे लोग समाज...

प्राण प्रतिष्ठा समारोह –  भारतवर्ष के पुनर्निर्माण का सर्व-कल्याणकारी अभियान का प्रारंभ

डॉ. मोहन भागवत, सरसंघचालक, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हमारे भारत का इतिहास पिछले लगभग डेढ़ हजार वर्षों से आक्रांताओं से निरंतर संघर्ष का इतिहास है. आरंभिक...

अयोध्या में श्रीराम मंदिर के प्रति पं. नेहरू की घृणा…!

आइये, पहले दो पत्रों के अंश पढ़ते हैं.... सबसे पहले, 26 दिसंबर, 1949 को लिखे गए एक पत्र की चर्चा करते हैं. इसमें लिखा है,...

प्रभु श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा एक संकल्प पूर्ति का क्षण भी और एक शुभारंभ भी

डॉ. मनमोहन वैद्य सह सरकार्यवाह, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ 22 जनवरी, 2024 को अयोध्या स्थित श्रीराम जन्मभूमि मंदिर में श्री रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने जा...

लोकनायक श्रीराम / 3

प्रशांत पोळ मुनिश्रेष्ठ विश्वामित्र के साथ श्रीराम और लक्ष्मण चल रहे हैं. वे गंगा नदी पार कर, दक्षिण तट पर आते हैं. प्रवास पुनः प्रारंभ...

लोकनायक श्रीराम / 2

प्रशांत पोळ सृष्टि के पालनकर्ता, सर्वव्यापी नारायण ने निर्णय लिया है, रावण जैसी आसुरी शक्ति के निर्दलन के लिए, ईश्वाकु कुल के वंशज, राजा दशरथ...