करंट टॉपिक्स

सामाजिक संगठन – सरकार के साथ मिलकर विकास में दे सकते हैं अहम योगदान

रवि प्रकाश सच्‍चाई यही है कि जब तक सरकार, सामाजिक संगठन व समाज एक साथ मिलकर काम करना शुरू नहीं करेंगे, तब तक न तो...

किसानों की आशंकाओं का समाधान करने की आवश्यकता

प्रो. अमिताभ श्रीवास्तव अन्नदाता को ईश्वर मानने की हमारी सदियों पुरानी संस्कृति रही है. परन्तु जब आजादी मिली तो पहली पंचवर्षीय योजना में ही औद्योगीकरण...

संयुक्त राष्ट्र संघ – समीक्षा और परिवर्तन समय की आवश्यकता

देवेश खंडेलवाल संयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना 1945 में एक अंतरराष्ट्रीय संगठन के रूप में हुई थी. जिसके प्रमुख उद्देश्यों में उसके सदस्य देशों के...

वन्य प्रदेश के लोकगीत सुनाते अमरकंटक के जलप्रपात

लोकेन्द्र सिंह अमरकंटक, मध्यप्रदेश के प्राकृतिक सौंदर्य से समृद्ध पर्यटन स्थलों में प्रमुख है. यदि सरकार और पर्यटन विभाग थोड़ा ध्यान दे, तो ‘हिल स्टेशन’ पचमढ़ी के बाद अमरकंटक...

पत्रकारिता में शुचिता, नैतिकता और आदर्श के हामी दीनदयाल जी

(पं. दीनदयाल उपाध्याय जयंती विशेष – 25 सितम्बर) लोकेन्द्र सिंह पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजनीतिज्ञ, चिंतक और विचारक के साथ ही कुशल संचारक और पत्रकार भी थे. उनके पत्रकार-व्यक्तित्व...

सजग भारत में साम्प्रदायिक व छद्म सेक्युलरवाद की राजनीती निष्क्रिय हो रही

डॉ. मनमोहन वैद्य सह सरकार्यवाह, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य का नेत्रदीपक शुभारम्भ करोड़ों भारतीयों और दुनिया भर में भारतीय मूल...

सबहिं नचावत राम गोसाईं

जयराम शुक्ल एक मित्र साइकिल की दुकान पर मिल गए. बाहर उनकी चमचमाती कार खड़ी थी. मैंने पूछा - यहां कैसे? वो बोले - डाक्टर...

“निजाम मातृभूमि का दुश्मन” – बाबासाहब आंबेडकर

  मराठवाड़ा मुक्ति संग्राम अथवा हैदराबाद मुक्ति संघर्ष न केवल भारत की अखंडता, बल्कि संप्रभुता की दृष्टि से भी अत्यधिक महत्वपूर्ण संघर्ष था. हैदराबाद की...

दिलों में सदा जिंदा है ‘दूरदर्शन’

डॉ. पवन सिंह मलिक दूरदर्शन, इस एक शब्द के साथ न जाने कितने दिलों की धड़कन आज भी धड़कती है. आज भी दूरदर्शन के नाम...

हिन्दी केवल भाषा नहीं, हमारी परंपरा-सभ्यता की पहचान रही है

पल्लवी अनवेकर एक बार एक मां अपने बच्चे को अंग्रेजी माध्यम में पढ़ाई करने के फायदे गिनवा रही थी. अंग्रेजी की महत्ता समझा रही थी....