करंट टॉपिक्स

निधि समर्पण – 11 साल की भाविका रामकथा कर जुटा रहीं श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए राशि

सूरत. श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण में सभी अपनी तरह से योगदान दे रहे हैं. इसी क्रम में सूरत की 11 वर्ष की बेटी रामकथा के...

श्री राम के प्रति उनका भाव जुड़े यह महत्वपूर्ण है……

  कच्छ.. रघु जुसब कोली, बालजी जुसब कोली, कल्पेश इब्राहीम कोली, आयशा इब्राहीम कोली... ये नाम पढ़कर आपको इनके बारे में जानने की जिज्ञासा होगी,...

सर्वत्र मंगल करना, यही भारत का प्रयोजन है – डॉ. मोहन भागवत जी

गणतंत्र दिवस पर सरसंघचालक व सरकार्यवाह ने फहराया तिरंगा कर्णावती. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कर्णावती संघ कार्यालय में आयोजित...

गणतंत्र दिवस पर ध्वजारोहण कार्यक्रम – आरएसएस सरसंघचालक जी का उद्बोधन

26.01.2021 गणतंत्र दिवस पर कर्णावती स्थित डॉ. हेडगेवार स्मारक समिति, गुजरात द्वारा आयोजित ध्वजारोहण कार्यक्रम में डॉ. मोहन भागवत जी, (सरसंघचालक, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) का उद्बोधन...

कच्छ – निधि समर्पण अभियान के निमित्त आयोजित राम रथ यात्रा पर हमला

गांधीधाम (कच्छ-भुज). श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान मकर संक्रांति से पूरे देश में प्रारंभ हो चुका है. गुजरात में भी अभियान चल रहा...

समरस समाज, संस्कारित परिवार के निर्माण में सभी प्राथमिकता से कार्य करेंगे – डॉ. कृष्णगोपाल

कोरोना की चुनौती के पश्चात आत्मनिर्भरता–स्वरोजगार–कौशल विकास को बनाएंगे समाज का आंदोलन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विविध संगठनों में कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं की तीन...

कर्णावती में अखिल भारतीय समन्वय बैठक कल से शुरू होगी

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विविध संगठनों में कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं की तीन दिवसीय अखिल भारतीय समन्वय बैठक 5 जनवरी, 2021 से कर्णावती महानगर में...

गुजरात – अखिल भारतीय समन्वय बैठक 5 से 7 जनवरी तक

कर्णावती (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विभिन्न समविचारी संगठनों के कार्यकर्त्ताओं की बैठक वर्ष में दो बार आयोजित की जाती है. इसी क्रम में इस...

ढांचे के धराशायी होने से ही प्रशस्त हुआ राम मंदिर का मार्ग – डॉ. सुरेन्द्र जैन

सवा 5 लाख गांवों के 65 करोड़ लोगों से 44 दिन में संपर्क का बनेगा इतिहास कर्णावती. विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ....

कच्छ – सीमावर्ती क्षेत्र में संघ की संस्थाओं ने किया पक्के घरों का निर्माण

चतुर्थ सरसंघचालक सुदर्शन जी की इच्छा को मिला साकार स्वरूप कच्छ (विसंकें). सीमांत क्षेत्रों में रहने वाले, तथा वंचित समाज के लोगों को भी जीवन...