करंट टॉपिक्स

देवर्षि नारद जी के सिद्धांत पत्रकार जगत में ग्रहण करने योग्य – प्रो. बी.के. कुठियाला

आगरा (विसंकें). आदि पत्रकार देवर्षि नारद की जयंती पर विश्व संवाद केंद्र ब्रज प्रांत द्वारा वेबिनार का आयोजन किया गया. जिसमें माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता...

बरेली – उपद्रवियों की भीड़ ने पुलिस चौकी पर किया हमला

बरेली. उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में सोमवार को उपद्नवियों ने पुलिस चौकी को घेर कर हमला कर दिया, जिसके बाद पुलिस ने उपद्रवियों को...

विकास का भारतीय चिंतन व्यक्ति, परिवार, समाज, राष्ट्र और सृष्टि पर आधारित है – डॉ. अनिरुद्ध देशपांडे जी

आगरा (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय संपर्क प्रमुख डॉ. अनिरुद्ध देशपांडे जी ने कहा कि पश्चिम और भारतीय चिंतन में अधिक अंतर उपभोग...

प्रेम और सत्य की शक्ति हमारा बचाव करती है – डॉ. मोहन भागवत जी

संघ के इतिहास में कितने ही प्रसंग आए, संघ को समाप्त करने का प्रयास किया. संघ समाप्त नहीं हुआ, लेकिन संघ को समाप्त करने वाले...

देश व समाज में संघ की स्वीकार्यता बढ़ी है – नरेंद्र ठाकुर

आगरा. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र ठाकुर ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मुख्य कार्य व्यक्ति निर्माण व समाज...

सारे भेदों को भुलाकर संगठित रहेंगे तो ही शक्तिशाली बनेंगे – भय्याजी जोशी

आगरा (विसंकें). आगरा कॉलेज के खेल मैदान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आगरा के चयनित स्वयंसेवकों का एकत्रीकरण हुआ. प्रत्येक शाखा से 10 स्वयंसेवक सूचीबद्ध किए...

मंदिर कोई पिकनिक स्पॉट नहीं, अपितु आस्था का केंद्र हैं – डॉ. कृष्णगोपाल जी

वृंदावन (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने कहा कि श्रीराम धर्म की धुरी हैं. जनता के मन में राम का...

रज्जू भैय्या सैनिक विद्या मंदिर का शिलान्यास समारोह

32 बीघा भूमि पर 40 करोड़ से होगा निर्माण शिकारपुर. राजपाल सिंह जनकल्याण सेवा समिति के तत्वाधान में जनसहयोग से विद्या भारती, अ.भा. शिक्षा संस्थान...

मानव, संपूर्ण सृष्टि का कल्याण, यही हिन्दुत्व का आधार है – डॉ. कृष्णगोपाल जी

बरेली (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने हिन्दुत्व को समझाते हुए बताया कि "हिन्दुत्व"...इसका कोई खांचा नहीं है, इसकी कोई...

ब्रज प्रांत का संघ शिक्षा वर्ग संपन्न

आगरा (विसंकें). व्यक्ति निर्माण की अभिनव पद्धति संघ की शाखा है. शाखाएं व्यवस्थित हों, इसलिए वर्ष में एक बार प्रशिक्षण वर्गों का आयोजन होता है....