करंट टॉपिक्स

चीनी सीमा चीन की दीवार तक, शेष सब कब्जा है – इन्द्रेश कुमार

Spread the love

शिमला (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य इंद्रेश कुमार ने कहा कि चीन की नीति हमेशा से विस्तारवाद की रही है. चीनी दीवार ही चीनी सीमा है, बाकि सब कब्जा है. यह बात आम लोगों को बताने की आवश्यकता है. चीन ने तिब्बत को हड़प लिया. आज दलाईलामा निर्वासित जीवनयापन कर रहे हैं. चीन ने शक्तिशाली होते ही यूनान पर कब्जा जमाना शुरू किया, मंगोलिया, तुर्कीस्तान के झिंगयान, नेपाल और पाकिस्तान में भी सहायता के नाम पर कब्जा जमाना शुरू कर दिया है. चीन साम्राज्यवादी दृष्टिकोण के कारण अंधा हो गया है और वह पूरे विश्व के देशों को ललकार रहा है.

इंद्रेश कुमार रविवार को विश्व संवाद केंद्र हिमाचल प्रदेश द्वारा आयोजित ऑनलाइन संवाद में संबोधित कर रहे थे. उन्होंने चीन के खिलाफ भारतीय सैनिकों के पराक्रम और साहस की सराहना करते हुए कहा कि चीन की विस्तारवादी नीतियों से निपटने के लिए चीन का आर्थिक बहिष्कार करना होगा.

इंद्रेश कुमार ने आह्वान किया कि स्वदेशी वस्तुओं के इस्तेमाल को जनजागरण का अभियान बना लें. चीन की अर्थव्यवस्था की कमर को तोड़ने के लिए सबसे आवश्यक अस्त्र चीनी माल का बहिष्कार ही है. उन्होंने चीनी माल पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि चीन का सामान आज हमारे घरों तक पहुंच गया है और चीनी माल की घुसपैठ हमारी जेबों तक पहुंच गयी है.

इंद्रेश कुमार ने चीनी वायरस को भगाने में तीव्र प्रकाश और तेज ध्वनि की वर्षों पुरानी पद्धति का विस्तार से वर्णन किया. उन्होंने कहा कि हमारे देश में हजारों साल से वायरस को भगाने की पद्धति विद्यमान रही है. कुछ मूर्ख लोग इस पद्धति पर भी सवाल उठा रहे हैं, जिससे उनकी बुद्धि पर तरस ही आता है. कार्यक्रम में तिब्बती निर्वासित सरकार की पूर्व गृहमंत्री श्रीमती ग्यारी डोलमा और विश्व संवाद केंद्र समिति के अध्यक्ष प्रो. नरेंद्र शारदा उपस्थित रहे.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *