करंट टॉपिक्स

डॉ. हेडगेवार स्मारक समिति ने बाढ़ प्रभावितों को वितरित की राहत सामग्री

Spread the love

गुवाहाटी. वर्तमान समय में समूचा असम बाढ़ की आपदा से बुरी तरह से प्रभावित है. राजधानी गुवाहाटी, कछार जिला मुख्यालय शहर सिलचर सहित अन्य हिस्से बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए सरकार के अलावा कई स्वयंसेवी संस्थाएं और संगठन आगे आ रहे हैं. इसी क्रम में डॉ. हेडगेवार स्मारक समिति ने भी बाढ़ प्रभावितों को राहत सामग्री वितरित की.

इस वर्ष अप्रैल और जून महीने में दो बार आई बाढ़ से आम लोगों का जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. बाढ़ से सबसे अधिक स्थिति खराब ग्रामीण इलाकों में हुई है. बड़ी संख्या में सड़क, पुल, तटबंध आदि क्षतिग्रस्त हुए हैं. वर्तमान समय में लोगों को सबसे अधिक आवश्यकता भोजन और चिकित्सा की है. इस कड़ी में रविवार को डॉ. हेडगेवार स्मारक समिति ने उत्तर गुवाहाटी के मांदाकाटा में बाढ़ से पीड़ित परिवारों के बीच राशन सामग्री का वितरण किया. समिति ने 300 परिवारों को चावल, दाल, आलू, चिउरा, गुड़, बिस्कुट, मोमबत्ती आदि वितरित किया. समिति के सदस्यों ने बताया कि इस तरह की मदद और सेवा के कार्य अन्य प्रभावित क्षेत्रों में भी चल रहा है.

उल्लेखनीय है कि राज्य के अभी भी 27 जिलों के 2894 गांवों की 25,10,989 नागरिक बाढ़ से प्रभावित हैं. जबकि, 80346.28 हेक्टेयर कृषि भूमि पर जलभराव हो गया है. राज्य में अप्रैल एवं जून में बाढ़ एवं भूस्खलन से 121 लोगों की मौत हो चुकी है. अभी भी 637 आश्रय शिविर और 259 वितरण केंद्रों में 2,33,271 लोग रह रहे हैं. सबसे अधिक स्थिति खराब कछार जिला मुख्यालय सिलचर शहर का है. शहर का अधिकांश हिस्सा पानी में डूबा हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.