करंट टॉपिक्स

रोंगटे खड़े कर देने वाली वारदात, पिता ने कर दी अपने 5 बच्चों की निर्मम हत्या

जींद (विसंकें). हरियाणा में पांच बच्चों की हत्या की सनसनीखेज घटना सामने आई है. हत्या करने वाला कोई और नहीं, बल्कि बच्चों का पिता ही है. चार मासूम बेटियों और एक बेटे की हत्या का गुनाह बाप ने खुद कबूला. पंचायत में जाकर उसने प्रधान के भाई के सामने हत्या करने की बात कही. दरअसल, जींद जिले के सफीदों क्षेत्र के गांव डिडवाड़ा में नहर में पांच दिन पहले मृत मिलीं दो बच्चियों को उनके पिता ने ही मारकर फेंका था. इससे पहले वह अपने तीन और बच्चों को मौत के घाट उतार चुका है. यह रहस्योद्घाटन उसने वीरवार को खुद ग्रामीणों और सरपंच के भाई के सामने किया.

ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है. ग्रामीणों के अनुसार जुम्मादीन ने बताया कि तांत्रिक ने उससे कहा था कि पत्नी को बच्चा होने से 15-20 दिन पहले दोनों बेटियों की हत्या कर देना. हालांकि पुलिस को दिए बयान में कभी तांत्रिक के कहने तो कभी आर्थिक तंगी के कारण ऐसा करने की बात कह रहा है. जुम्मा ने ग्रामीणों के सामने अपना जुर्म कुबूल करते हुए बताया था कि 15 जुलाई की रात में निशा (7) और मुस्कान (11) के साथ पूरे परिवार को नींद की गोलियां खिला दी थीं. जब सभी बेहोश हो गए तो आधी रात को उसने बाइक की टंकी पर तकिया रखकर आगे निशा को लिटा दिया और मुस्कान को कपड़े से पीठ पर बांध लिया. घर से सात किलोमीटर दूर साहनपुर गांव के पास दोनों को नहर में फेंक दिया.

बीती 15 जुलाई की रात को मजदूर 30 वर्षीय जुम्माद्दीन की दो बेटियां मुस्कान (11) और निशा (7) लापता हो गई थीं. तीन दिन बाद उनके शव नहर में मिले थे. वीरवार को जुम्माद्दीन गांव के सरपंच संजीव के भाई प्रमोद के पास गया और कहा कि उसने ही दोनों बेटियों को नहर में फेंका था. इससे सरपंच व ग्रामीण हैरान रह गए.

दो बच्चियों की मौत से ग्रामीणों में जुम्माद्दीन के प्रति सहानुभूति थी, लेकिन जैसे ही हकीकत पता चली तो उन्होंने उसे काबू कर लिया. वे उसे लेकर सफीदों डीएसपी कार्यालय पहुंचे. वहां जुम्माद्दीन मुकर गया. वापस आकर गांव में उसने फिर पांचों बच्चों की हत्या करने की बात स्वीकार ली. उसने ग्रामीणों से माफी मांगी, लेकिन लोगों ने उसे पुलिस को सौंप दिया. जुम्मा ने पुलिस और गांव के जनप्रतिनिधियों के सामने कुबूल किया है कि उसने डेढ़ साल पहले अपने दोनों बेटों नबी (2) और आर्यन (4) की जहर देकर और आठ साल पहले नौ माह की बेटी की गला दबाकर हत्या की थी.

बीमारी बता दी थी तीन बच्चों की मौत का कारण

आरोपित जुम्माद्दीन ने ग्रामीणों को बताया कि बेटी मुस्कान व निशा की हत्या से पहले वह अपने तीन बच्चों की भी हत्या कर चुका है. उसने तीन वर्षीय लड़के व चार वर्षीय लड़की की हत्या की थी. यही नहीं, उसने डेढ़ साल की लड़की की भी हत्या की थी, लेकिन उस समय उन्हें बीमार बता ग्रामीणों को गुमराह कर दिया था.

पत्नी छठी बार गर्भवती

फिलहाल जुम्माद्दीन की पत्नी छठी बार गर्भवती है. उधर, आरोपित के साथ हत्या के मामले में कुछ और लोग भी शामिल हो सकते हैं. जुम्माद्दीन ने ग्रामीणों के सामने बच्चों की हत्या करना कबूला है. उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पूछताछ के बाद ही किसी नतीजे तक पहुंचा जा सकता है.

डूबने से हुई है दोनों बच्चियों की मौत

पुलिस नहर से मिले दोनों बच्चियों की शवों की विसरा रिपोर्ट का इंतजार कर रही है, लेकिन प्राथमिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण डूबना आया है.

पत्नी बोली – गोली मारो या फांसी दो

जुम्मा की पत्नी ने मीडिया से कहा कि जिस प्रकार से उसके पांचों बच्चों की हत्या की गई है, उसी प्रकार जुम्मा को भी गोली मारकर या फांसी देकर मौत के घाट उतारा जाए. इससे पहले तीन बच्चों की हत्या पर पोस्टमार्टम नहीं करवाया गया था. यदि पोस्टमार्टम होता तो जुम्मा पहले ही कानून के हत्थे चढ़ गया होता.

तांत्रिक के चक्कर में पड़ा है जुम्मादीन

जुम्मादीन तांत्रिक के चक्कर में पड़ा हुआ है. जुम्मा की पत्नी ने बताया कि नबी की हत्या पर जुम्मा ने बताया था कि अब कैथल जिले के भक्त के पास जाना शुरू कर दिया है. इससे अधिक उसने उसे कुछ नहीं बताया था. इस घटना के बाद भी उसकी जुम्मा से कोई बात नहीं हो पाई.

तांत्रिक की थ्योरी को नकार नहीं रही पुलिस

अभी तक की पूछताछ में पुलिस को तांत्रिक के संपर्क में होने की थ्योरी नहीं मिली है, लेकिन इसे पुलिस पूरी तरह से इनकार भी नहीं कर रही है. पुलिस सूत्रों के अनुसार जुम्मा से पूछताछ में दो और लोगों के नाम सामने आए हैं. इनमें एक व्यक्ति उत्तर प्रदेश का रहने वाला है और वह तंत्र विद्या से जुड़ा हुआ है. वह जुम्मा का रिश्तेदार है. दूसरा व्यक्ति भी तंत्र विद्या से जुड़ा है. पुलिस दोनों की तलाश कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *