करंट टॉपिक्स

गणेश विसर्जन आपके घर द्वार पर – माय ग्रीन सोसायटी का अभिनव उपक्रम, ८०० ने लिया लाभ

Spread the love

मुंबई (विसंकें). सर्वत्र गणेशोत्सव का वातावरण है. इस साल कोरोना संक्रमण के कारण गणेशोत्सव मनाने में उत्साह थोड़ा कम है, पर भक्तिभाव में कोई कमी नहीं है. हर वर्ष की तरह भाद्रपद शुद्ध चतुर्थी को गणेश जी का घर में आगमन हुआ. डेढ़ दिन के गणपति का २३ अगस्त को अनेकों भक्तों ने विसर्जन किया. मुंबई महापालिका के निर्देशों के अनुसार अनेक जगहों पर गणेशमूर्ति संकलन हेतु व्यवस्था की गई है. कोरोना संक्रमण के डर से विसर्जन करने के लिए जाने वालों की संख्या निर्धारित है.

समाज में ऐसे भी कई लोग हैं, जिन्हें विसर्जन स्थली पर या संकलन केन्द्रों तक जाना संभव नहीं है. तथा कोरोना संक्रमण के कारण किसी को सहायता के लिए बुलाना भी असंभव है. पर, अपने घर के गणेश जी का भक्तिभाव पूर्वक, विधिवत विसर्जन हो, ऐसी इच्छा होना भी स्वाभाविक है. सोचिये, सिर्फ एक फोन करने पर ट्रक पर खड़ा गणेश विसर्जन का टैंक आपके घर के बाहर आकर खड़ा हो जाए तो? यह सपना नहीं वास्तव में हुआ है. माय ग्रीन सोसायटी ने गणेश विसर्जन – आपके घर द्वार पर (Ganesh Visarjan At Your Doorstep) उपक्रम चलाया.

#CarbonNeutralMumbai, हैशटेग के अंतर्गत माय ग्रीन सोसायटी और भाजपा युवा मोर्चा द्वारा ३६ विधानसभा चुनाव क्षेत्रों में ३६ चलते-फिरते विसर्जन हौद तैयार किये गए थे. मुंबई भाजपा अध्यक्ष एडवोकेट मंगलप्रभात लोढा की संकल्पना से यह प्रकल्प साकार हुआ. हर एक ट्रक पर एक विसर्जन टैंक, निर्माल्य बॉक्स, पूजा करने वाले पंडित, पूजा सामग्री आदि की व्यवस्था थी. एक विसर्जन टैंक पर चार पांच कार्यकर्ता उपस्थित थे. एक फोन करने पर यह विसर्जन टैंक आपके दरवाजे पर उपस्थित होता है. यजमान को आवश्यक सभी मदद की जाती है. वयोवृद्ध हो, दिव्यांग हो या सर्वसामान्य नागरिक, गणेश जी को अपने हाथों से विसर्जित करने का भाग्य उसे प्राप्त होता है.

कोरोना संक्रमण को देखते हुए सरकारी निर्देशानुसार सभी आवश्यक प्रबंध किये गए थे. घर के केवल एक व्यक्ति को ट्रक पर प्रवेश था. यजमान के ट्रक पर प्रवेश करने से पहले नीचे खड़े कार्यकर्ता द्वारा उसे सेनेटाइजर से निर्जन्तुक किया गया, बाद में विसर्जन किया गया. विसर्जन टैंक के साथ उपस्थित सभी कार्यकर्ता पीपीई किट पहने हुए थे. जमा किया गया, निर्माल्य पालिका के निर्माल्य कलश में जमा कराया गया. इस उपक्रम से अपनी परंपरा कायम रही, पर्यावरण स्नेही विसर्जन हुआ और कोरोना संक्रमण का डर भी नहीं रहा.

माय ग्रीन सोसायटी के उपक्रम को मुंबईकर नागरिकों का बहुत अच्छा प्रतिसाद मिला. ३६ चुनाव क्षेत्रों में तक़रीबन ८०० नागरिकों ने सुविधा का लाभ उठाकर गणेश जी का विसर्जन किया.

माय ग्रीन सोसायटी पर्यावरणस्नेही उपक्रमों के लिए पहचानी जाती है. कुछ दिन पहले ही एक दिन में २० हजार सीड बॉल बनाने का विश्व कीर्तिमान संस्था ने बनाया था. किचन गार्डन प्रशिक्षण, गीले कचरे से खाद बनाने का प्रशिक्षण, जैसे अनेक उपक्रम संस्था द्वारा चलाए जाते है.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *