करंट टॉपिक्स

गोर बंजारा कुंभ – पांच सौ एकड़ क्षेत्र में बसेंगे सात नगर; दस लाख श्रद्धालुओं की उपस्थिति का अनुमान

Spread the love

जलगांव, महाराष्ट्र. जामनेर तालुका के गोदरी में पांच सौ एकड़ क्षेत्र में अखिल भारतीय हिन्दू गोर बंजारा और लबाना नायकड़ा समाज कुंभ की तैयारी तेज हो गई है. श्रद्धालुओं के ठहरने के लिए सात नगर बसाए गए हैं. इनमें पचास हजार श्रद्धालुओं के ठहरने की व्यवस्था होगी. साथ ही मेले में दिन के समय आने वाले डेढ़ लाख श्रद्धालुओं के भोजन की भी व्यवस्था की जाएगी. खाने की व्यवस्था के लिए सात बड़े रसोई घर बनाए जा रहे हैं.

बारह घंटे भोजन सेवा

गोदरी में कुंभ मेले में प्रवेश करने वाले श्रद्धालुओं के लिए रसोई घर में बारह घंटे भोजन उपलब्ध होगा. इसलिए भोजन व्यवस्था गतिविधि चौबीस घंटे चलेगी, भोजन वितरण सुबह से लेकर रात तक चलेगा. कुंभ स्थल में मुख्य सभा मंडप के सामने श्रद्धालुओं के लिए भोजन की व्यवस्था है. दिन में डेढ़ लाख से अधिक श्रद्धालुओं के भोजन करने की व्यवस्था की गई है.

चार हेलीपैड का निर्माण

छह दिवसीय कुंभ के लिए देश भर से विभिन्न राष्ट्रीय संत, राजनीतिक नेता, मंत्री और विशिष्ट अतिथि आएंगे. आने वाले मुख्य अतिथियों की सुविधा के लिए चार हेलीपैड का निर्माण किया जा रहा है. साथ ही गोदरी ग्राम को जोड़ने वाली नौ सड़कों को भी सुधारा गया है.

महिलाओं के लिए एक अलग शहर का निर्माण

गोर बंजारा कुंभ में तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक और महाराष्ट्र राज्य से दस लाख श्रद्धालु आने की संभावना है. उनकी सुविधा के लिए सात नगरों की व्यवस्था की गई है. इनमें से  महिलाओं के लिए अलग नगर होगा. 2500 से 3000 महिलाओं के रहने की व्यवस्था भी की गई है. इस नगर में मंडपों में आवास के साथ ही स्नानगृहों का निर्माण किया जा रहा है. जिसमें अत्याधुनिक शौचालय का निर्माण किया गया है.

छह गुंबदों (डोम) और नब्बे संत कुटिया के साथ ढाई सौ एकड़ का मंडप

गोदरी कुंभ में 250 एकड़ के मंडप में छह गुंबद और नब्बे संत कुटिया का निर्माण कार्य चल रहा है.  मुख्य सभा मंडप का गुंबद जर्मन हैंगर उज्जैन से आएगा. विशेष गणमान्य व्यक्ति यहां आएंगे, उस दृष्टि से उनका निर्माण किया जा रहा.

धार्मिक स्थल गोदरी में स्वयं सहायता समूह (महिला बचत गट) स्टॉल के लिए जगह उपलब्ध करायी गयी है. इसमें 200 बचत समूह अपने विभिन्न उत्पादों का प्रदर्शन करेंगे. केंद्रीय कार्यालय धार्मिक स्थल पर मंदिर के पीछे स्थित होगा. धार्मिक स्थलों पर अमृतसर, नांदेड़ में गुरुद्वारा के माध्यम से श्रद्धालुओं के लिए प्रसाद लंगर रखा जाएगा.

दो हजार पुलिस की व्यवस्था…

कुंभ में श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए यहां दो हजार पुलिसकर्मी तैनात होंगे. इसके अलावा फायर ब्रिगेड, एंबुलेंस और अस्पताल, बस सेवा की व्यवस्था की गई है. साथ ही मोबाइल कनेक्टिविटी के लिए बीएसएनएल द्वारा एक अस्थाई मोबाइल टावर का निर्माण किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.