करंट टॉपिक्स

गुवाहाटी – श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में प्रदर्शनी व सांस्कृतिक संध्या का उद्घाटन, पूर्वोत्तर के कलाकारों ने दी सांस्कृतिक प्रस्तुतियां

Spread the love

गुवाहाटी. श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में चार दिवसीय लोकमंथन 2022 बुधवार की शाम को शुरू हो गया. प्रदर्शनी व सांस्कृतिक संध्या का उद्घाटन असम सरकार के उद्योग और वाणिज्य, सार्वजनिक उद्यम और सांस्कृतिक विभाग के मंत्री बिमल बोरा ने किया.

पूर्वोत्तर क्षेत्र के बौद्धिक मंच (आईएफएनई) की पहल और असम पर्यटन विकास निगम के सहयोग से लोकमंथन का आयोजन किया जा रहा है. बिमल बोरा के साथ मणिपुर के राज्यसभा सदस्य महाराजा लीसेम्बा संजाओबा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के असम क्षेत्र के बौद्धिक प्रमुख तीर्थांक दास कलिता भी उपस्थित थे.

सत्र को तीर्थांक दास कलिता, राज्यसभा सांसद महाराजा लीसेम्बा संजाओबा और असम सरकार के मंत्री बिमल बोरा ने संबोधित करते हुए पूर्वोत्तर क्षेत्र की एकता के सूत्र पर प्रकाश डाला.

उद्घाटन सत्र के पश्चात सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया. जिसमें पूर्वोत्तर के कलाकारों ने पारंपरिक नृत्य एवं गीत प्रस्तुत किया. जिसमें भक्ति गीत, पूर्वोत्तर के रंग के तहत अरुणाचल प्रदेश, असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड और त्रिपुरा के विभिन्न नृत्य कलाकारों ने सांस्कृतिक प्रस्तुति दी. गायक नील आकाश और मोंगका लाइहुई ने अपनी प्रस्तुति दी. कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पूर्वोत्तर के सिक्किम सहित आठों राज्यों के साथ ही देश के अन्य हिस्सों से कई कलाकार और काफी संख्या में मेहमान पहले ही गुवाहाटी पहुंच चुके हैं.

कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन सत्र गुरुवार की सुबह 10 बजे श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र में आयोजित होगा. उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ मुख्य अतिथि होंगे. जबकि, असम और नगालैंड के राज्यपाल प्रो. जगदीश मुखी और असम के मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्व सरमा भी विशिष्ट अतिथि के रूप में हिस्सा लेंगे. प्रज्ञा प्रवाह के अखिल भारतीय संयोजक जे. नंदकुमार भी शामिल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.