करंट टॉपिक्स

राष्ट्र कल्याण में ही मानव कल्याण

Spread the love

गोरखपुर. विश्व संवाद केंद्र गोरखपुर के तत्वाधान में नारद जयंती के उपलक्ष्य में सरस्वती विद्या मंदिर के सभागार में “वर्तमान परिवेश में पत्रकारिता की भूमिका” विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया. जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ला जी ने उपस्थित रहे.

उन्होंने कहा कि वाममार्गी और वामपंथी में अंतर है….नारद जी जिनकी तीनों लोकों में मान्यता है, जिनका दानव और देवताओं में समान रूप से सम्मान है, उन्हें यह पत्रकार नहीं मानते. नारद जी में कल्याणकारी कार्यों के लिए समाचार को प्रचारित प्रसारित करने की शक्ति थी. उसी प्रकार आज के पत्रकारों को भी अपनी शक्ति का प्रयोग ऐसे समाचारों को प्रसारित करने के लिए करना चाहिए. हम नारद जी के अनुयायी हैं और हमारी यह शक्ति है. हमने अपने विचारों को लोकप्रिय बनाने में सफलता पाई है. आज बलूचिस्तान से आवाज उठ रही है कि हमें भी भारत में शामिल होना है. उन्होंने कहा कि राष्ट्र कल्याण में ही मानव कल्याण है. हम अपनी भूमिका प्रबलता से निभाएंगे. मैं गोरखपुर के विश्व संवाद केंद्र का सम्मान करता हूं, जिन्होंने आज नारी शक्ति का अभिनंदन किया.

1937 में महात्मा गांधी ने नवयुग में लिखा कि मुस्लिम आक्रांताओं ने जिन हिन्दू मंदिरों को तोड़ा है, उनकी सूची दे दी जाए और भाईचारे का संदेश देते हुए मुस्लिम पक्ष माफी मांगते हुए उन्हें हिन्दुओं को सौंप दे. जिससे उनका पुनर्निर्माण हो सके. और यदि हिन्दुओं ने भी ऐसा कहीं कुछ गलत किया हो तो उसकी भी सूची दे दी जाए, जिसे मुस्लिम पक्ष पुनः बनवा सके. तो इसे क्यों नहीं माना गया, क्या वे संघ के कार्यकर्ता थे या विश्व हिन्दू परिषद के कार्यकर्ता थे..?

यासीन मलिक की पत्नी जो पाकिस्तान की है, पाकिस्तान में बैठकर भारत के विरुद्ध बयान देती है और यहां की मीडिया उसे स्थान देती है.

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि प्रो. रीना श्रीवास्तव पूर्व अध्यक्ष स्त्री एवं प्रसूति विभाग बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर तथा सुरेंद्र अग्रवाल पूर्व अध्यक्ष चेंबर ऑफ इंडस्ट्रीज गोरखपुर ने भी सम्बोधित किया. कार्यक्रम का संचालन आकृति व परिचय पुनीत पाण्डेय ने कराया. कार्यक्रम की प्रस्तावना संजय राव व आभार ज्ञापन प्रचार प्रमुख उपेन्द्र द्विवेदी ने किया.

कार्य़क्रम में रेनू सिंह (दैनिक जागरण), अंजुमन बानो (टाइम्स ऑफ इंडिया), प्रगति चंद (दैनिक जागरण), आरजे प्रीति (रेडियो सिटी), प्रीति कश्यप (डिजिटल फ्रीलांसर), बीनू मिश्रा (राष्ट्रीय सहारा), मान्यता (अमर उजाला), आकृति विज्ञा अर्पण (फ्रीलांसर) को सम्मानित किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.