करंट टॉपिक्स

बंगलूरू में अवैध टेलीफोन एक्सचेंज का भंडाफोड़, दो गिरफ्तार

Spread the love

बंगलूरु. बंगलूरु पुलिस के आतंकवाद निरोधक सेल (एटीसी) और सैन्य खुफिया विभाग सदर्न कमांड के संयुक्त ऑपरेशन में एक अवैध टेलीफोन एक्सचेंज का भंडाफोड़ हुआ है. ये लोग अंतरराष्ट्रीय फोन कॉल्स को स्थानीय कॉल में बदल दिया करते थे. मामले में दो लोग गिरफ्तार किए गए हैं.

रिपोर्ट्स के अनुसार पुलिस ने बताया कि आरोपियों के पास से 32 सिम बॉक्स डिवाइस बरामद हुआ है, जिसमें एक बार में 960 सिम कार्ड इस्तेमाल किए जा सकते हैं. इसके माध्यम से अंतरराष्ट्रीय फोन कॉल को स्थानीय कॉल में परिवर्तित किया जाता था. दूरसंचार विभाग को धोखा देने वाले दो नेटवर्क जासूसों को भी पकड़ा गया है.

हेराफेरी के कारण राजस्व को तो नुकसान हो ही रहा था और देश की सुरक्षा को भी खतरा पैदा हो रहा था. लेआउट क्षेत्र में छह स्थानों पर, केरल के एक व्यक्ति पर अवैध रूप से एक टेलीफोन एक्सचेंज बनाने, कई मोबाइल सिम कार्ड को इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में रखने, विदेशी फोन कॉल को स्थानीय कॉल में बदलने, दूरसंचार नेटवर्क को धोखा देने और देश की सुरक्षा को बाधित करने का आरोप लगा है.

केरल के मल्लापुर जिले के निवासी इब्राहिम पुल्लाट्टी (36) और तमिलनाडु के त्रिपुर के रहने वाले गौतम बी विश्वनाथन (27) ने अपनी गैरकानूनी गतिविधियों के संचालन के लिए शहर के छह इलाकों में 32 डिवाइस फिट किए थे.

प्रारंभिक जांच में खुलासा हुआ है कि गिरफ्तार आरोपियों ने बीटीएम लेआउट के छह स्थानों में 32 सिम कार्ड स्थापित करने के लिए 30 इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग किया, 900 से अधिक मोबाइल सिम कार्ड का उपयोग करके, अनधिकृत रूप से अंतरराष्ट्रीय (आईएसडी) फोन कॉल को स्थानीय कॉल में परिवर्तित कर सुरक्षा और अन्य गलत कार्यों का संचालन किया.

एटीसी अधिकारियों ने बंगलूरु सिटी साइबर अपराध पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया है और जांच जारी है. फिलहाल यह पता लगाने का भी प्रयास किया जा रहा है कि कितने लोग अभी भी नेटवर्क के साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं. टीम का नेतृत्व एटीपी यूनिट के अधिकारी एसीपी बीआर वेणुगोपाल और पीआई भरत कर रहे थे. पुलिस आयुक्त ने 30 हजार रुपये के इनाम की घोषणा की है.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *