करंट टॉपिक्स

जम्मू कश्मीर – एक दिन में 83 हजार लोगों ने लगावाया टीका

Spread the love

जम्मू कश्मीर. कोरोना के खिलाफ जंग में जम्मू कश्मीर में टीकाकरण अभियान तेजी के साथ चल रहा है. सोमवार को प्रदेश में एक दिन में 83 हजार से अधिक लोगों ने टीका लगवाया. इसके साथ ही अस्पताल में अन्य सुविधाएं भी जुटाई जा रही हैं.

जिसके बाद प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में पहली डोज लगवाने वालों की संख्या 99.21 फीसद हो गई है. कुल टीकाकरण करवाने वालों की संख्या 56 लाख के आंकड़े को पार कर गई है. स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के आंकड़ों के अनुसार सोमवार को 45 साल से अधिक आयु वर्ग में 82,828 लोगों ने टीका लगवाया.

45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में 12 जिले पहले से ही सौ फीसद टीकाकरण कर चुके हैं. इनमें कश्मीर संभाग के आठ जिले अनंतनाग, कुलगाम, शोपियां, पुलवामा, बडगाम, बारामुला, गांदरबल और बांडीपोरा शामिल है. जम्मू संभाग में जम्मू, राजौरी, पुंछ और सांबा जिलों में सौ फीसद टीकाकरण हुआ है. अन्य आठ जिलों में श्रीनगर जिले में 90.20 फीसद, कुपवाड़ा में 78.49, ऊधमपुर 88.31, कठुआ 94.23, रामबन 95.13, डोडा 90.35 और किश्तवाड़ 96.65 फीसद टीकाकरण हुआ है.

ऑक्सीजन आपूर्ति

प्रदेश में ऑक्सीजन की पर्याप्त आपूर्ति के लिए उचित व्यवस्था की जा रही है. अगस्त तक सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन की क्षमता 71650 एलपीएम (लीटर प्रति मिनट) तक पहुंच जाएगी.

प्रदेश में कुल 84 ऑक्सीजन जेनरेशन प्लांट स्थापित किए जा रहे हैं, जिसमें मौजूदा समय में आधे से अधिक प्लांट लगा दिए गए हैं. वहीं, पीएम केयर फंड से 34 ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं.

देशभर में डेल्टा सहित अन्य नए वैरियंट की दस्तक से कोविड की तीसरी लहर को खतरनाक माना जा रहा है. जहां देशभर में दूसरी लहर के दौरान अधिकांश जगहों पर ऑक्सीजन की कमी दिखी थी, जम्मू-कश्मीर में ऑक्सीजन आपूर्ति की समस्या नहीं आई थी.

राज्य में कोविड की तीसरी लहर के परिणामों को ध्यान में रखते हुए गंभीर और सामान्य मरीजों के लिए सरकारी अस्पतालों में पर्याप्त ऑक्सीजन उपलब्ध करवाई जा रही है. सरकारी अस्पतालों में आईसीयू बिस्तरों सहित अन्य आपात सुविधाओं का भी विस्तार किया जा रहा है. सरकार की कोशिश है कि लेवल 1, लेवल 2 और लेवल 3 के सभी कोविड अस्पतालों में मरीजों को पर्याप्त ऑक्सीजन मिल सके.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *