करंट टॉपिक्स

स्वदेशी – दिल्ली पुलिस की महिला कार्यकारी पहनेंगी खादी सिल्क साड़ियां

Spread the love

नई दिल्ली. खादी अब सरकारी कार्यालयों में भी लोकप्रिय होने लगी है. दिल्ली पुलिस अपनी महिला फ्रंट डेस्क कार्यकारियों के लिए सुंदर खादी सिल्क की साड़ियां खरीद रही है. खादी और ग्रामीण आयोग उद्योग (केवीआईसी) को दिल्ली पुलिस से 25 लाख रुपये मूल्य की 836 खादी सिल्क की साड़ियां खरीदने का आदेश प्राप्त हुआ है.

दोहरे रंग की साड़ियां तसर – कटिया सिल्क से बनाई जाएंगी. साड़ियां नेचुरल कलर सिल्क तथा गुलाबी रंग में कटिया सिल्क की मिश्रित होंगी. केवीआईसी के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि दिल्ली पुलिस से मिले नवीनतम खरीद आदेश से खादी की बढ़ती लोकप्रियता जाहिर होती है.

स्वदेशी और आत्मनिर्भर भारतीय परिप्रेक्ष्य में भी यदि हम देखें तो खादी कारीगरी है, इसलिए यह सबसे आरामदायक कपड़ा है. सामान्यजन ही नहीं विशेषकर युवाओं और सरकारी निकायों द्वारा खादी को अपनाया जा रहा है. यह दूरदराज के कताई और बुनाई करने वाले दस्तकारों को बहुत बड़ा प्रोत्साहन है.

तसर – कटिया सिल्क की साड़ियां पश्चिम बंगाल में परम्परागत दस्तकारों द्वारा तैयार की जा रही हैं. तसर – कटिया सिल्क दो रंगों में है, जिसकी पहचान गहरी और भारी बुनावट से होती है. दो अलग – अलग धागों से बना यह खुरदरा होता है और देखने में सादा लगता है. लेकिन सुराखदार बुनाई इस कपड़े को सभी मौसम में पहनने योग्य बना देती है.

केवीआईसी इससे पूर्व खादी की चादरों और वर्दियों सहित खादी उत्पाद आपूर्ति के लिए भारतीय रेल, स्वास्थ्य मंत्रालय, भारतीय डाक विभाग, एयर इंडिया तथा अन्य सरकारी एजेंसियों से समझौता कर चुका है. केवीआईसी एयर इंडिया के क्रू सदस्यों तथा स्टाफ के लिए यूनिफॉर्म बना रहा है. आयोग 90 हजार से अधिक डाक बंधुओं/डाक बहनों के लिए यूनिफॉर्म बना रहा है. यूनिफॉर्म ऑनलाइन भी उपलब्ध हैं.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *