करंट टॉपिक्स

कुवैत – विरोध प्रदर्शन में शामिल प्रवासियों को निर्वासित करने का आदेश

Spread the love

नई दिल्ली. कुवैत प्रशासन ने जुम्मे की नमाज के बाद प्रदर्शन में भाग लेने वाले प्रवासियों को वापस उनके देश भेजने का निर्णय लिया है. प्रशासन ने फहील क्षेत्र से प्रवासियों को गिरफ्तार करने का आदेश जारी किया है. जुम्मे की नमाज के बाद प्रदर्शन का आयोजन करने वाले इन प्रदर्शनकारी प्रवासियों को कुवैत के कानून का उल्लंघन करने के कारण निर्वासित किया जाएगा. साथ ही उनका वीजा रद्द कर दिया जाएगा और उनके कुवैत में प्रवेश करने पर स्थाई रूप से प्रतिबंध भी लगाया जा सकता है. उल्लेखनीय है कि यह प्रवासी कुवैत में नूपुर शर्मा के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे.

रिपोर्ट्स के अनुसार, कुवैत ने जिन प्रवासियों पर कार्रवाई की है उनमें भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश सहित कई देशों के नागरिक शामिल हैं. कुवैत में रह रहे प्रवासियों के लिए चेतावनी जारी करते हुए कुवैत सरकार ने कहा कि सभी प्रवासियों को कुवैती कानूनों का सम्मान करना होगा. अगर कोई भी कानून का उल्लंघन करता है और किसी भी प्रकार के धरना प्रदर्शन में शामिल होता है तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

कुवैत के कानून के अनुसार, प्रवासियों को धरना या प्रदर्शन आयोजित करने की अनुमति नहीं है. इसी नियम की वजह से सरकार की तरफ से संबंधित प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया गया है. सरकार का तर्क है कि अगर इन प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाती है तो उनके देश में रहने वाले दूसरे देशों के नागरिक कानून को अपने हाथ में लेने लगेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.