करंट टॉपिक्स

नागपुर – संघ शिक्षा वर्ग तृतीय वर्ष का शुभारंभ

Spread the love

नागपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, संघ शिक्षा वर्ग तृतीय वर्ष का उद्घाटन कार्यक्रम आज 14 नवम्बर को  प्रातः नागपुर रेशीमबाग स्थित डॉ. हेडगेवार स्मृति भवन परिसर के महर्षि व्यास सभागृह में संपन्न हुआ. उद्घाटन समारोह में वर्ग के पालक अधिकारी तथा अखिल भारतीय सह प्रचारक प्रमुख अरुण जी जैन ने देशभर से आए शिक्षार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि समाज परिवर्तन में प्रशिक्षित कार्यकर्ताओं की बड़ी भूमिका होती है. दुनिया में हिन्दुत्व और भारत के प्रति आस्था व उत्सुकता बढ़ी है. कोरोना काल में सात्विक भारतीय जीवनपद्धति का महत्त्व भी सामने आया है. हिन्दुत्व के प्रति अनुकूलता बढ़ी है. ऐसे में कार्यकर्ताओं की जिम्मेदारी बढ़ जाती है. संघ शिक्षा वर्गों के माध्यम से कार्यकर्ता निर्माण होता है. संघ शिक्षा वर्ग में आए शिक्षार्थियों की भाषा अलग-अलग होती है, किंतु सभी को भारत की एकात्म दृष्टी का अनुभव होता है. तथा हम सब एक हैं इस भाव की अनुभूती प्राप्त होती है. यही संघ शिक्षा वर्ग की विशेषता है.

वर्ष १९२७ में हुए प्रथम संघ शिक्षा वर्ग का उल्लेख करते हुए अरुण जी जैन ने बताया कि नागपुर में महल स्थित केंद्रीय कार्यालय के पास पुराने मोहिते बाड़ा में हुए इस वर्ग में कुल 17 स्वयंसेवक सहभागी थे. तब से अब तक वर्ग निरंतर लगते आए हैं. इनमें १९४८ और १९७७ में संघ पर लगे प्रतिबंध और कोरोना काल का समय केवल अपवाद रहा है. कोरोना काल में स्वयंसेवक वर्ग से वंचित रह गए थे और इसीलिए इस वर्ष में दूसरी बार सामान्य संघ शिक्षा वर्ग, तृतीय वर्ष का आयोजन किया गया है. बिना मोबाईल फोन के सभी शिक्षार्थी २५ दिन अपना प्रशिक्षण पूर्ण करेंगे.

उद्घाटन समारोह में तृतीय वर्ष शिक्षा वर्ग के अधिकारियों तथा उपस्थित अखिल भारतीय अधिकारियों का परिचय करवाया गया. पुष्पार्चन सह सरकार्यवाह मुकुंद जी द्वारा हुआ. वर्ग में ६३२ प्रशिक्षार्थी सम्मिलित हुए हैं. २८ नवम्बर को पथसंचलन होगा तथा वर्ग का समापन ८ दिसंबर २०२२ को होगा.

रा. स्व. संघ, संघ शिक्षा वर्ग – तृतीय वर्ष अधिकारी परिचय

सर्वाधिकारी : दक्षिणामूर्ती जी (प्रांत संघचालक, तेलंगाना प्रांत)

कार्यवाह : अतुल जी मोघे (प्रांत सह कार्यवाह, विदर्भ प्रांत)

वर्गपालक अधिकारी : अरुण जी जैन (अखिल भारतीय सह प्रचारक प्रमुख)

मुख्यशिक्षक : रोशन जी मोहने (भाग कार्यवाह, नागपुर महानगर)

सह मुख्यशिक्षक : अतुल जी देशपांडे (विभाग प्रचारक, उत्तर असम प्रान्त)

बौद्धिक प्रमुख : श्रीधर जी स्वामी (बौद्धिक शिक्षण प्रमुख, दक्षिणमध्य क्षेत्र)

सह बौद्धिक प्रमुख : नरेन्द्र जी (शारीरिक शिक्षण प्रमुख, पंजाब प्रान्त)

सेवा प्रमुख : शिवलहारि जी (क्षेत्र सेवा प्रमुख, राजस्थान क्षेत्र)

व्यवस्था प्रमुख : नितिन जी एदलाबादकर (भाग सह कार्यवाह, नागपुर महानगर)

सह व्यवस्था प्रमुख : सतीश जी बावनकुळे (भाग सेवा प्रमुख, नागपुर)

Leave a Reply

Your email address will not be published.