करंट टॉपिक्स

पीएफआई के ठिकानों पर एनआईए की छापेमारी, दिल्ली-उत्तर प्रदेश सहित आठ राज्यों में छापेमारी

Spread the love

नई दिल्ली. एनआईए ने आज फिर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के ठिकानों पर छापेमारी की. एनआईए की टीम ने मंगलवार सुबह से ही कई राज्यों में छापेमारी शुरू की. छापेमारी के दौरान 8 राज्यों में 200 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया गया. साथ ही कुछ लोगों की गिरफ्तारी भी की गई है. जिन राज्यों में छापेमारी की गई – उनमें उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, बिहार, गुजरात और असम शामिल हैं.

कर्नाटक में बड़ी संख्या में पीएफआई सदस्यों को हिरासत में लिया गया है. पुलिस अधिकारी आलोक कुमार ने बताया कि पीएफआई और एसडीपीआई के 75 से ज्यादा सदस्यों को एहतियात के तौर पर हिरासत में लिया गया है. इसमें एसडीपीआई का जिला प्रमुख भी शामिल है. इसके अलावा गुजरात में भी 10 लोगों को हिरासत में लिया गया है.

महाराष्ट्र और असम में पीएफआई के 50 से ज्यादा सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है. असम पुलिस ने 25 तो महाराष्ट्र पुलिस ने 27 सदस्यों पर शिकंजा कसा है. असम के गोलपाड़ा जिले में 10 लोगों को गिरफ्तार किया है. महाराष्ट्र में जिन्हें गिरफ्ताार किया गया है, उनमें पीएफआई के जिला अध्यक्ष, सचिव, खजांची शामिल हैं.

महाराष्ट्र पुलिस ने नासिक में ऑल इंडिया इमाम काउंसिल (एआईआईसी) के प्रदेश अध्यक्ष इरफान दौलत नदवी को भी गिरफ्तार किया है. इस दौरान पीएफआई के सदस्यों को भी गिरफ्तार किया गया. महाराष्ट्र के ठाणे, नासिक और मालेगांव में छापेमारी की जा रही है.

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में निजामुद्दीन, शाहीन बाग इलाके में PFI के ठिकानों पर छापेमारी हुई. ये अभियान एनआईए और दिल्ली पुलिस ने मिलकर चलाया. छापेमारी में लोगों को हिरासत में लिया गया है. शाहीन बाग में धारा 144 लगाई गई है. 30 से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है. सभी से कड़ी पूछताछ की जा रही है.

बिहार में भी पीएफआई के ठिकानों पर छापेमारी की गई. एटीएस ने भोजपुर के कलछीना में पीएफआई के करीब 15 सदस्यों को हिरासत में लिया है. सभी आरोपियों को मोदीनगर थाने ले जाया गया.

एनआईए और एटीएस ने प्रदेश के इंदौर, उज्जैन, शाजापुर समेत 7 जगहों पर छापेमारी की. बताया जा रहा है कि रात तीन बजे से यहां छापेमारी की जा रही है. शहर में पीएफआई के सचिव यूसुफ और जिला कमेटी सदस्य सईद टेलर के यहां छापामार कार्रवाई की गई. इनमें से एटीएस ने टेलर को हिरासत में लिया है.

एनआईए की टीम ने उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में भी छापेमारी की. एनआईए ने बुलंदशहर और मेरठ में छापा मारा है.

22 सितंबर को 15 राज्यों में हुई थी छापेमारी

इससे पहले एनआईए ने ईडी और अन्य एजेंसियों के साथ मिलकर 22 सितंबर को 15 राज्यों में पीएफआई के 93 ठिकानों पर छापेमारी की थी. छापेमारी में पीएफआई के अध्यक्ष ओएमए सलमान, पी कोया, ई अबूबकर, इलामरम और सीपी मोहम्मद बसीर सहित 106 सदस्यों को गिरफ्तार किया था. इस दौरान आतंकी गतिविधियों व फंडिंग से जुड़े अहम दस्तावेज भी बरामद किए थे.

रिपोर्ट्स के अनुसार, वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि छापे के दौरान कुछ दस्तावेज भी मिले हैं. जिससे पता चलता है कि पीएफआई देश में आतंकी गतिविधियों में शामिल होने, युवाओं को आतंकी प्रशिक्षण देने, दंगे भड़काने और निर्दोष लोगों की हत्या करने के साथ-साथ युवाओं को कट्टरता का पाठ पढ़ाकर उन्हें आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (ISIS) में शामिल होने के लिए उकसाता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.