करंट टॉपिक्स

‘एक गाँव, एक तिरंगा’ अभियान 1,09,400 स्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया

Spread the love

नई दिल्ली. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के “एक गांव, एक तिरंगा” अभियान के तहत देश भर में 1,09,400 स्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया. कोरोना की परिस्थिति को देखते हुए कुल 20,41,636 लोगों की सहभागिता अभियान में हुई. देश के 76,643 गांव एवं 23,887 बस्तियों में ध्वजारोहण सम्पन्न हुआ.

अंडमान निकोबार द्वीप से लेकर अरुणाचल प्रदेश के मोइरंग तक और जम्मू-कश्मीर के बारामूला से लेकर मलकानगिरी उड़ीसा के सुदूर नवरंगपुर तक, लाखों नागरिकों ने 75वें स्वतंत्रता दिवस के उत्सव में भाग लिया. चाहे बाढ़ प्रभावित क्षेत्र हों या या नक्सल प्रभावित, अभाविप के कार्यर्ताओं ने देश के सभी हिस्सों में इस अभियान को सफलता से संपन्न किया.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले जी ने भोपाल कार्यालय पर ध्वजारोहण कर अभियान की शुरुआत की थी. विशेष कार्यक्रमों में लखनऊ महानगर एवं मदुरई में ट्रांसजेंडर समुदाय के लोगों के साथ स्वाधीनता पर्व मनाया गया, भारत नेपाल बॉर्डर में वनवासी गाँव दोमाठ में स्वतंत्रता सेनानी रामदेव मुखिया जी द्वारा ध्वजारोहण किया गया एवं गोरखपुर के नौका विहार में 5000 लोगों ने सामूहिक राष्ट्रगान किया. इस अभियान के निमित्त देश के अलग अलग स्थानों को चिन्हित कर वहां के लोगों के साथ ध्वजारोहण किया गया तथा शोभा यात्रा, सामूहिक राष्ट्र गान गायन, भारत माता पूजन, सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा प्रतियोगिताओं आदि कार्यक्रमों का आयोजन हुआ.

विद्यार्थी परिषद का मानना है कि देश को स्वतंत्रता दिलाने में देश के प्रत्येक नागरिक का योगदान रहा है. अभाविप के कार्यकर्ताओं ने देश के प्रत्येक जिले में ध्वजारोहण कर आजादी के इस अमृत उत्सव को मनाने के साथ-साथ देश के गुमनाम नायकों की कहानियां लोगों को बताते हुए स्वाधीनता के गुमनाम नायकों को याद किया.

आगामी वर्ष में अभाविप ’75 दिन देश के लिए’ नाम से अल्पकालीन विस्तारक योजना में जुड़ने का आह्वाहन युवाओं से करेगी. जिसमें देश की विभिन्न समस्याएं जैसे पर्यावरण आदि के समाधान के लिए काम किया जाएगा. इसके अतिरिक्त साहित्य निर्माण, पुस्तक प्रकाशन, स्वतंत्र वीरों के गांव में जाकर उनकी वीरता के गाथा का संकलन करना जैसे प्रयास किये जाएंगे.

अभाविप की राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी ने कहा कि ,”अभाविप के कार्यकर्ताओं का देश भर में यह प्रयास अभिभूत करने वाला है. आज देश स्वाधीनता के 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है, उस वर्ष के प्रारंभ को ही अभाविप के कार्यकर्ताओं ने जिस उत्साह के साथ मनाया है, वह अपने आप में प्रेरणादायी है.”

 

 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *