करंट टॉपिक्स

ऑपरेशन मॉनसून – सुरक्षा बलों ने 7 नक्सलियों को ढेर किया, 10 गिरफ्तार, ढाई दर्जन ने किया आत्मसमर्पण

Spread the love

 

फोटो – प्रतीकात्मक

नई दिल्ली. मॉनसून के दौरान सुरक्षा बलों पर हमला कर छिपने के लिए दुर्गम जंगलों में बनाए ठिकाने भी नक्सलियों के लिए सुरक्षित नहीं बचे हैं, क्योंकि सुरक्षा बल नई रणनीति के तहत कार्रवाई कर रहे हैं. छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में मॉनसून सीजन में नई रणनीति के तहत ऑपरेशन में सफलता भी मिल रही है.

पूर्व के वर्षों में मॉनसून सीजन के दौरान हावी रहने वाले नक्सलियों के लिए स्थितियां अब बदल गई हैं. एक जून से जारी ऑपरेशन मॉनसून में अब तक सात हार्डकोर नक्सली ढेर किए जा चुके हैं. नक्सलियों से एके-47 और एसएलआर जैसे अत्याधुनिक हथियार, विस्फोटक व अन्य सामान भी बरामद हुआ है.

दरअसल, बारिश में नक्सल गतिविधियां कम रहने का लाभ उठाते हुए धुर नक्सल क्षेत्रों में भीतर तक सड़कें बना दी गई हैं. सुरक्षा बलों के कैंप भी खुल गए हैं. इसके चलते नक्सलियों के सुरक्षित ठिकानों तक फोर्स का पहुंचना आसान हो गया है, जिसका लाभ भी मिल रहा है. नक्सलियों को चौतरफा घेरने के लिए बस्तर संभाग के अलग-अलग जिलों और सीमावर्ती राज्यों की फोर्स के बीच समन्वय बनाया गया है. इसी के तहत ऑपरेशन मॉनसून अभी दो महीने और चलेगा.

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस अधिकारियों ने बताया कि एक जून को ऑपरेशन मॉनसून के पहले ही दिन कोंडागांव जिले के भंडारडीह पहाड़ी के नक्सली कैंप पर धावा बोलकर दो नक्सलियों को मार गिराया था. ओडिशा की सीमा से सटे चांदामेटा, पयारभांट के जंगल में नक्सलियों की मौजूदगी की सूचना पर सुकमा व बस्तर दोनों ओर से फोर्स रवाना हुई और 18 जून को एक महिला नक्सली को ढेर कर दिया. जिले के इतुल के पास मुठभेड़ में दो नक्सली मारे गए थे. 27 जून को दंतेवाड़ा जिले के नीलावाया गांव में मुठभेड़ में पांच लाख का इनामी नक्सली संतोष मरकाम मारा गया था. वहीं, 30 जून को बस्तर जिले के दरभा इलाके के एलंगनार में मुठभेड़ में तीन लाख के इनामी नक्सली जोगा को मार गिराया था.

आत्मसमर्पण ऑपरेशन मॉनसून के दौरान ढाई दर्जन से अधिक नक्सिलों ने आत्मसमर्पण भी किया है. चार जून को बीजापुर में तीन नक्सली, सात जून को दंतेवाड़ा में चार, 11 जून को सुकमा में आठ, इसी दिन दंतेवाड़ा में पांच, 12 जून को बीजापुर में दो, 15 जून को दंतेवाड़ा में तीन, 22 जून को दंतेवाड़ा में तीन और 28 जून को दंतेवाड़ा में तीन नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया.

अभियान के दौरान आठ जून को गंगाराम मंडावी, दो जून को नक्सली कमांडर सोबराय, तीन जून को पोलमपल्ली में दो नक्सली, 16 जून को बीजापुर में दो और 20 जून को सुकमा में चार नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया.

आईजी बस्तर सुंदरराज पी. ने कहा कि मॉनसून में अलग-अलग बलों के समन्वय से ऑपरेशन चलाया जा रहा है. यह अभियान अभी दो महीने और चलेगा. अब तक सात नक्सलियों के शव व भारी मात्रा में हथियार बरामद किए गए हैं.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *