करंट टॉपिक्स

कांग्रेस के घृणा भरे रक्तरंजित इतिहास के लिए माफी मांगें राहुल – डॉ. सुरेन्द्र जैन

Spread the love

नई दिल्ली. विश्व हिन्दू परिषद ने कहा कि कांग्रेस के अपरिपक्व बुद्धि वाले, एक कथित युवा नेता ने भारत जोड़ने के नाम पर जिस प्रकार देश-भक्त संगठनों को बदनाम कर नफरत फैलाने और देश को एक बार फिर बांटने का जो षड्यंत्र किया है, वह घोर निंदनीय है. विहिप के केन्द्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ. सुरेन्द्र जैन ने एक बयान में कहा कि उन्हें स्मरण रखना चाहिए कि नफरत फैलाने, समाज को बांटने और नरसंहार करने-कराने का घृणित इतिहास तो कांग्रेस का ही है. हिन्दू संगठनों को दोष देने की बजाय, कांग्रेस द्वारा देश तोड़ने के लिए किए गए महापापों के लिए उनको माफी मांगनी चाहिए.

स्मरण दिलाया कि खिलाफत आंदोलन के कारण 1920 में केरल के मालाबार में हजारों हिन्दुओं की हत्या करने वाले मोपलाओं को कांग्रेस ने, न केवल बढ़ावा दिया था. अपितु, उनको स्वतंत्रता सेनानी घोषित कर, स्वतंत्रता के 70 साल के बाद तक भी, उनके परिवारों को पेंशन दी गई थी. कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण ही भारत का विभाजन हुआ और विभाजन नीति के गलत क्रियान्वयन के कारण लाखों मासूम लोगों की हत्या हुई व करोड़ों हिन्दुओं को शरणार्थी बनकर दर-दर की ठोकरें खानी पड़ी.

1948 में महात्मा गांधी की हत्या का संघ पर निराधार व झूठा आरोप लगाकर हजारों चितपावन ब्राह्मणों पर हमला करने, सैकड़ों की निर्मम हत्या करने व संघ के कई कार्यकर्ताओं को जिंदा जलाने का महापाप इसी कांग्रेस ने ही किया था. यह सर्वविदित तथ्य है कि 1980 के दशक में 22,000 से अधिक हिन्दुओं की हत्या व लाखों हिन्दुओं के विस्थापन के लिए जिम्मेदार खालिस्तानी आतंक को जन्म देने का काम कांग्रेस ने ही किया था. अब इसके साक्ष्य मिलने लगे हैं कि 1984 में 20,000 से अधिक मासूम सिक्खों की निर्मम हत्या कांग्रेस के इशारे पर ही हुई थी. कश्मीर घाटी में सैकड़ों हिन्दुओं की निर्मम हत्या करने व लाखों को शरणार्थी बनाने वाले आतंकियों को सम्मानित करने का काम कांग्रेस ही करती रही है.

1947 के बाद भारत में आतंकवाद के जितने भी स्वरूप रहे हैं, वे सभी कांग्रेस की गलत नीतियों के कारण ही जन्म लेते रहे हैं. आज भी नफरत फैलाने वाले “टुकड़े टुकड़े गैंग” हो या “सर तन से जुदा करने वाले गैंग” वे सभी कांग्रेसी नेताओं की शह पर ही काम करते हैं. लव जिहादियों और आतंकियों के साथ कांग्रेस से जुड़े वकीलों की फौज बिना कांग्रेसी नेताओं के कहे कैसे खड़ी हो सकती है?

उन्होंने कहा कि सारी दुनिया जानती है कि भगवा आतंकवाद का दुष्प्रचार कर हिन्दुओं को बदनाम करने व जिहादियों को प्रश्रय देने का महापाप भी कांग्रेस ने ही किया था. इस प्रकार के अपराध करने वाली कांग्रेस अपने दामन को कैसे साफ रख सकती है? इसलिए इस कथित युवा नेता को आत्म निरीक्षण करके अपने पापों का प्रायश्चित करना चाहिए और हिन्दू संगठनों को दोष देने की जगह कांग्रेस द्वारा देश से किए गए महापापों के लिए माफी मांगनी चाहिए .

Leave a Reply

Your email address will not be published.