करंट टॉपिक्स

भोपाल की 279 बस्तियों में कोरोना स्क्रीनिंग करेगा आरएसएस

Spread the love

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने बनायी योजना, कोरोना संक्रमण की पहचान कर उसे रोकना उद्देश्य, 16 मई को 26 नगरों में 55 टोलियों ने की स्क्रीनिंग

भोपाल. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भोपाल विभाग ने घर-घर जाकर स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग करके कोरोना संक्रमण की पहचान करने और उसे रोकने की योजना बनायी है. संघ के स्वयंसेवकों ने भोपाल की 279 बस्तियों तक पहुँचने का लक्ष्य लिया है. 16 मई से स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग के काम को अभियान के रूप में लिया गया है, जो 23 मई तक चलेगा. रविवार को संघ के स्वयंसेवकों की 55 टोलियों ने 22 नगरों की 55 बस्तियों में स्क्रीनिंग एवं जन-जागरण का कार्य किया. साथ ही 4 स्थानों पर रैपिड एंटीजन टेस्ट भी किया गया. आगामी सप्ताह से ग्रामीण क्षेत्रों में भी स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग का कार्य संघ की ओर से किया जाएगा.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भोपाल विभाग के संघचालक डॉ. राजेश सेठी ने बताया कि संक्रमण की पहचान कर और उन्हें उचित उपचार मिले, इस उद्देश्य से संघ की विभिन्न टोलियाँ भोपाल की अलग-अलग कॉलोनियों में 2 मई से स्क्रीनिंग एवं टेस्टिंग का काम कर रही हैं. टेस्टिंग एवं ट्रीटमेंट की पद्धति से कोरोना को फैलने से रोका जा सकता है. इस काम के लिए हमने स्वयंसेवकों को प्रशिक्षित भी किया है. टेस्टिंग का कार्य तो डॉक्टर्स और पैरा मेडिकल स्टाफ के कार्यकर्ताओं की देखरेख में किया जा रहा है. इस कार्य में डॉ. सुनील मलिक, डॉ. अभिजीत देशमुख, डॉ. अंशुल राय, डॉ. गौरव गुप्ता, डॉ. अनुपम मिश्रा, डॉ. सुमित राणा एवं एम्स हॉस्पिटल के नर्सिंग स्टाफ का सहयोग भी मिल रहा है.

उल्लेखनीय है कि आरएसएस भोपाल विभाग में कोरोना संक्रमण में लोगों की सहायता करने और उन्हें राहत पहुँचाने के लिए लगभग 12 प्रकार के कार्यों का संचालन कर रहा है. इसमें क्वारेंटाइन सेंटर, आइसोलेशन सेंटर, हेल्पलाइन सेंटर, प्लाज्मा एवं रक्त दान और भोजन वितरण के कार्य शामिल हैं. संघ के स्वयंसेवक प्रशासन को भी सहयोग कर रहे हैं. अस्पतालों में भी मरीजों एवं उनके परिजनों को विभिन्न प्रकार की सहायता उपलब्ध कराई जा रही है.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *