करंट टॉपिक्स

संघ राष्ट्र कार्य के लिए प्रेरित करता है

Spread the love

कानपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ संघ शिक्षा वर्ग प्रथम वर्ष का शुभारंभ उरई के झांसी रोड स्थित ब्रज कुंवर एल्ड्रिच पब्लिक स्कूल के सभागृह में हुआ.

उद्घाटन सत्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह व्यवस्था प्रमुख अनिल ओक जी ने शिक्षार्थियों को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि संघ शिक्षा वर्ग एक प्रकार की गंगोत्री है. हम सभी यहाँ पर 20 दिन की तपस्या करने हेतु आए हैं. आराम से बैठकर राष्ट्र का चिंतन नहीं हो सकता है. सफल जीवन जीने के लिए लोग धन कमा सकते हैं. सार्थक जीवन जीने वाला महान कहलाता है, संघ सार्थक जीवन जीने वाले व्यक्ति तैयार करता है. देश में आज 50 हजार शाखाएं चल रही हैं. शिक्षा का उद्देश्य स्वयंसेवक के जीवन को राष्ट्रीय शिक्षा देना है. सभी स्वयंसेवकों में सकारात्मक परिवर्तन (राष्ट्रीय, सामाजिक) होना चाहिए, पेड़ों जैसा परोपकारी होना चाहिए. संघ में वीर सावरकर जी जैसे राष्ट्र धर्म के लिए जीना सिखाया जाता है. जो धर्म एवं राष्ट्र के लिए निर्वंश रहे, उन्हें सम्पूर्ण राष्ट्र अपना वंशज स्वीकार लेता है. व्यक्ति का विकास स्वयं की इच्छाशक्ति पर निर्भर है. मैं कैसा जीवन जीना चाहता हूँ, वर्ग में तय करके जाना.

वर्ग के लिए जिले के 40 गांवों के 300 परिवारों से 6000 रोटी प्रतिदिन वर्ग में आ रही हैं. 21 जिलों से 341 शिक्षार्थी, 42 शिक्षक एवं 100 कार्यकर्ता वर्ग की व्यवस्था में सहयोग कर रहे हैं. 06 जून को पथ संचलन का आयोजन किया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.