करंट टॉपिक्स

सर्वे भवन्तु सुखिनः – भारत ने अफगानिस्तान को सहायता की दूसरी खेप भेजी

Spread the love

नई दिल्ली. सर्वे भवन्तु सुखिनः के ध्येय पर चलते हुए भारत ने शनिवार को अफगानिस्तान को कोरोना रोधी को-वैक्सीन टीके की पांच लाख खुराक की आपूर्ति की. तालिबान द्वारा युद्ध से प्रभावित अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद भारत की ओर से मानवीय सहायता की यह दूसरी खेप है.

विदेश मंत्रालय के बयान के अनुसार, आने वाले सप्ताह में अफगानिस्तान को टीके की पांच लाख अतिरिक्त खुराक की आपूर्ति की जाएगी. इसमें कहा गया है, ‘आज भारत ने अफगानिस्तान को मानवीय सहायता के तहत कोरोना रोधी को-वैक्सीन टीके की पांच लाख खुराक की आपूर्ति की. इसे काबुल में इंदिरा गांधी अस्पताल को सौंपा गया.’

विदेश मंत्रालय ने बताया कि भारत, अफगानिस्तान के लोगों को मानवीय सहायता के तौर खाद्यान्न, कोविड रोधी टीके की 10 लाख खुराक और जीवन रक्षक दवा उपलब्ध कराने को प्रतिबद्ध है. आने वाले सप्ताह में भारत गेहूं की आपूर्ति करेगा और शेष चिकित्सा सहायता पहुंचाएगा.

‘इस संबंध में हम परिवहन संबंधी रूपरेखा को अंतिम रूप देने के लिये संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों एवं अन्य के साथ सम्पर्क में है.’

गौरतलब है कि भारत पहले ही पाकिस्तान के रास्ते सड़क मार्ग से होते हुए अफगानिस्तान को 50 हजार मीट्रिक टन गेहूं एवं दवा भेजने की घोषणा कर चुका है. भारत और पाकिस्तान परिवहन संबंधी रूपरेखा को अंतिम रूप दे रहे हैं.

भारत ने अफगानिस्तान में मानवीय संकट से निपटने के लिए उसे निर्बाध रूप से मानवीय सहायता प्रदान करने की वकालत की है. यद्यपि भारत ने अफगानिस्तान में वर्तमान शासन को मान्यता नहीं दी है और वहां सही अर्थों में समावेशी सरकार पर जोर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.