करंट टॉपिक्स

सुरक्षा एजेंसियों ने दिल्ली, पंजाब, जम्मू कश्मीर में आतंकियों की साजिश नाकाम की

Spread the love

नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली, पंजाब और जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकियों की बड़ी साजिश नाकाम कर दी. गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) से पहले देश को दहलाने की साजिश थी. पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर फूल मंडी में आईईडी बरामद किया है. इसे बम निरोधक दस्ते ने निष्क्रिय कर दिया. वहीं, श्रीनगर के ख्वाजा बाजार में भी आईईडी बरामद किया गया. इसके अलावा पंजाब में आरडीएक्स की बड़ी खेप बरामद की गई है. पुलिस इन मामलों की जांच कर रही है.

स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने 26 जनवरी और चुनाव के दौरान पंजाब को दहलाने का बड़ा षड्यंत्र विफल किया है. एसटीएफ ने अंतरराष्ट्रीय भारत-पाक सीमा के पास धनोए कला गांव से आईईडी बरामद किया है. इसमें 2.5 किलो आरडीएक्स का इस्तेमाल किया गया था.

एसटीएफ के अनुसार, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई और खालिस्तानी आतंकियों ने आरडीएक्स को चुनाव के दौरान धमाके करने के लिए भेजा है. एसटीएफ के अधिकारी और लोकल पुलिस आरोपियों का सुराग जुटाने में लगी है, जिन्होंने आरडीएक्स की खेप उठाकर सुरक्षित ठिकाने लगानी थी.

रशपाल सिंह, एआईजी, एसटीएफ अमृतसर ने बताया कि उन्हें ड्रग्स स्मगलिंग की सूचना मिली थी. जब वह स्पॉट पर पहुंचे वाघा-अटारी बार्डर के पास गांव में आईईडी मिला, जिसका वजन करीब 5 किलो था. एक लाख रुपये भी रिकवर किए हैं. मामले की जांच कर रहे हैं.

बरामदगी के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट है और सीमा पर रहने वाले तस्करों की तलाश में जुटी हैं. उधर, चार संदिग्धों को राउंडअप कर पूछताछ की जा रही है. उल्लेखनीय है कि बार्डर के साथ जुड़े इलाके में सुरक्षा एजेंसी बीते 5 महीनों से ग्रेनेड, आरडीएक्स हथियार और हेरोइन लगातार बरामद कर रही है.

उधर, उत्तर प्रदेश की सीमा से सटे गाजीपुर फूल मंडी में शुक्रवार को एक लावारिस बैग मिलने से हड़कंप मच गया. बैग में बम की सूचना पर जिला पुलिस, स्पेशल सेल के अधिकारियों के साथ दमकल और बम निरोधक दस्ता भी मौके पर पहुंच गया. फूल मंडी को खाली करवाकर उसे छावनी में तब्दील कर दिया गया. बम को निष्क्रिय करने के लिए मशीन भी मंगाई गई. इसके साथ जेसीबी मशीन से एक जगह की खोदाई कराई गई. गड्ढे में बम को डाल दिया. इसके बाद इसमें जोरदार धमाका हुआ. धमाका बम निरोधक दस्ते की देखरेख में हुआ.

गाजीपुर की इस मंडी से कई राज्यों में फूल भेजे जाते हैं. कोरोना संक्रमण की वजह से अभी बाजार में हलचल काफी कम है. शुक्रवार को मकर संक्रांति के अवसर पर दोपहर करीब 12:00 बजे यहां लावारिस बैग ने हलचल बढ़ा दी. यह तो साफ हो गया कि बैग में बम था, लेकिन इसे कौन लेकर पहुंचा? उसकी मंशा क्या थी? अभी इसका पता नहीं चल पाया है.

बैग में बम की सूचना पर जिला पुलिस, स्पेशल सेल के अधिकारियों के साथ दमकल और बम निरोधक दस्ता भी मौके पर पहुंच गया था. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.