करंट टॉपिक्स

शबरीमला – डाक विभाग ‘स्वामी प्रसादम’ को देश भर में भक्तों के घर तक पहुंचाएगा

Spread the love

नई दिल्ली. भगवान अय्यप्पा के भक्तों के लिए डाक विभाग नई योजना शुरू करने वाला है. डाक विभाग ने शबरीमला ‘स्वामी प्रसादम’ को देश भर में भक्तों के घर तक पहुंचाने का निर्णय लिया है. डाक विभाग ने देश के कोने-कोने को कवर करने वाले अपने विशाल नेटवर्क का उपयोग करते हुए भक्तों के द्वार तक शबरीमला मंदिर के “स्वामी प्रसादम” के वितरण के लिए एक व्यापक बुकिंग और वितरण पैकेज विकसित किया है. केरल पोस्टल सर्कल ने महत्वपूर्ण योजना के लिए त्रावणकोर देवस्वोम बोर्ड के साथ एक समझौता किया है.

भक्त अब प्रसादम के प्रत्येक पैकेट के लिए केवल साढ़े चार सौ रुपये (चार सौ पचास रुपये) का भुगतान करके भारत के किसी भी डाकघर से अपने लिए स्वामी प्रसादम मंगवा सकते हैं. इसमें एक पैकेट अरावना, आदियाशिष्ठम ने (घी), विभूति, कुमकुम, हल्दी और अर्चना प्रसादम दिए जाते हैं. एक भक्त एक बार में दस पैकेट तक ही मंगवा सकता है. जैसे ही प्रसादम को स्पीड पोस्ट सेवा के माध्यम से बुक किया जाता है, तभी स्पीड पोस्ट नंबर के साथ एक संदेश तैयार होगा और एसएमएस के माध्यम से भक्त को सूचित किया जाएगा. इंडिया पोस्ट की वेबसाइट पर लॉग-इन करके प्रसादम के आगमन की स्थिति को ट्रैक कर सकते हैं.

यह सेवा 06 नवंबर, 2020 से पूरे भारत में शुरू की गई थी. इस विशेष सेवा को जनता से उत्साहवर्धक सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है. पूरे भारत में अब तक लगभग 9000 ऑर्डर बुक किए जा चुके हैं और यह संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है.

शबरीमला मंदिर को इस वर्ष के “मंडलम सीजन तीर्थयात्रा” के लिए 16 नवंबर, 2020 से भक्तों के लिए खोला गया है. मौजूदा कोविड-19 महामारी की स्थिति के कारण तीर्थयात्रियों को इस धर्मस्थल पर आने के लिए सख्त प्रोटोकॉल का पालन करना पड़ा है. इस सीजन में प्रतिदिन केवल सीमित संख्या में भक्तों को ही दर्शन के लिए जाने की अनुमति थी. तीर्थयात्रा के लिए लगाए गए कड़े प्रतिबंधों के कारण भगवान अय्यप्पा के दर्शन पाने के लिए श्रद्धालुओं की एक बड़ी संख्या कोविड प्रोटोकॉल को पूरा करने में सक्षम नहीं थी.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *