You Are Here: Home » Posts tagged "अयोध्या"

    हमारे जनजाती भाइयों और बहनों ने सनातनी संस्कारों को जीवित रखा है

    1193 में मुहम्मद गौरी के मनहूस कदम पड़ने से लेकर 1947 में अंग्रेजों की वापसी तक जिस घने अंधकार ने हिन्दुस्थान की अस्मिता को ढाँक रखा था, 5 अगस्त 2020 को भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में भव्य मंदिर के पहले पत्थर के आघात की पहली किरण से ही वह छँट रहा है. यह प्रारब्ध की मार ही है कि स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भी इस धरा के हम सभी आदिवासी, जिनके पुरखों का 10000 वर्षों का इतिहास हमारी स्मृतियों में विद्यमान ह ...

    Read more

    पथ निहारते नयन…. श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण कार्य शुभारंभ – 2

    पिंकेश लता रघुवंशी श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन असंख्य हिन्दुओं के आराध्य भगवान राम और आस्था के केन्द्र श्रीराम जन्मभूमि स्थान के विधर्मियों द्वारा विध्वंस को भला हिन्दू समाज कैसे सहता? अनेक संघर्ष छोटे और बड़े स्वरूपों में चलते रहे और लगातार पाँच सौ वर्षों से हर मन मानस यही स्वप्न संजोता कि अपने जीवन में वह श्री रामलला को अपने भव्य मंदिर में विराजमान होते हुए देखे. किंतु दुर्भाग्य अनेक पीढ़ियां ये स्वप्न अपने मन ...

    Read more

    गया में भी दीपोत्सव, एकल अभियान ने 270 गांवों में जश्न मनाया

    गया. यह लोगों के विश्वास की “जीत’ है. विक्रम संवत् 2077, मास भाद्रपद कृष्ण पक्ष द्वितीया तिथि.... सनातन धर्मावलंबियों के लिए इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया. अयोध्या में प्रभु श्रीराम के भव्य मंदिर की नींव रख दी गई है, जल्द ही हिन्दुओं के प्रमुख आस्था का केन्द्र अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण का कार्य पूरा हो जाएगा. शक्तिपीठ मां मंगलागौरी मंदिर 1008 दीपों से सजा रहा. विष्णुपद मंदिर में 101 दीप सजे. सीताक ...

    Read more

    बाड़मेर जिले के मोतीसरा गांव में 50 परिवारों के 250 सदस्यों ने हिन्दू धर्म में वापसी की

    जयपुर. अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य शुभारंभ के अवसर पर बुधवार को बाड़मेर जिले के पायला कल्ला पंचायत समिति के मोतीसरा गांव में रहने वाले 50 मुस्लिम परिवारों ने पुनः हिन्दू धर्म ग्रहण कर लिया. हिन्‍दू धर्म अपनाने वाले परिवार के बुजुर्गों ने कहा कि उनके पूर्वज हिन्‍दू थे. इतिहास का ज्ञान होने के बाद उन्होंने बिना किसी के दबाव के स्वेच्छा से हिन्‍दू धर्म ग्रहण किया है. हिन्‍दू धर्म अपनाने वाले सुभनराम ...

    Read more

    श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य शुभारंभ पर शहरों-गांवों में दीवाली की तरह जगमग

    रोहतक (विसंकें). अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य शुभारंभ के पश्चात देश में प्रसन्नता की लहर है. अलग-अलग स्थानों पर आयोजन किए जा रहे हैं. पीपली बाजार स्थित भगवान परशुराम मंदिर में श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य शुभारंभ कार्यक्रम के पश्चात अम्बाला जिला ब्राह्मण सभा और श्री बांके बिहारी रामलीला क्लब नावल्टी चौक अम्बाला शहर द्वारा हवन यज्ञ किया गया. हवन में विभिन्न पदाधिकारी और सदस्य उपस्थित रहे. श्रीराम ज ...

    Read more

    अयोध्या में शिला पूजन शुरू होते ही धर्मनगरी के देवालयों में शंखनाद, विजय महामंत्र, हनुमान चालीसा का पाठ

    कुरुक्षेत्र. श्रीराम जन्मभूमि को लेकर 500 साल के संघर्ष के पश्चात हिन्दू समाज को जीत मिली. वहीं श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण कार्य का शुभारंभ होने पर चहुंओर प्रसन्नता है. मठ-मंदिरों में भजन- कीर्तन का दौर चल रहा है. दीपोत्सव का आयोजन किया जा रहा है. प्रसन्नता में आतिशबाजी की जा रही है. अयोध्या में पूजन शुरू होते ही धर्मनगरी में शंखनाद व मंत्रोच्चार गूंज उठे. जय श्रीराम के उद्घोष से वातावरण गूंज उठा. हर ...

    Read more

    पथ निहारते नयन…. श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण कार्य शुभारंभ – 1

    पिंकेश लता रघुवंशी अपि स्वर्णमयी लंका न मे लक्ष्मण रोचते । जननी जन्मभूमिश्च स्वर्गादपि गरीयसी ॥ (वाल्मीकि रामायण) लंका विजयोपरांत लंका के वैभव और बनावट देख वहीं रहने के लक्ष्मण जी के आग्रह पर भगवान राम यही उत्तर तो देते हैं - लक्ष्मण! यद्यपि यह लंका सोने की बनी है, फिर भी इसमें मेरी कोई रुचि नहीं है. (क्योंकि) जननी और जन्मभूमि स्वर्ग से भी महान है. उसी जन्मभूमि को पाने और अपने ही जन्म स्थान को सिद्ध करने के ...

    Read more

    लखनऊ की यादें – जिन्होंने राममन्दिर आन्दोलन में तन मन समर्पित किया

    अवध. हजरतगंज चौराहे पर कारसेवकों की भीड़ और पुलिस की घेराबन्दी. श्रीराम मन्दिर आन्दोलन का केन्द्र अयोध्या थी, लेकिन इस आन्दोलन का एक रास्ता लखनऊ से भी होकर जाता था. बाहर से आ रहे कारसेवकों की सेवा लखनऊ के ही निवासी करते थे. अयोध्या कूच के ऐलान के साथ ही दिसम्बर 1992 से पहले लखनऊ में रामभक्तों का कारवां दिखाई देता था, जो अयोध्या की ओर बढ़ता जा रहा था. लखनऊ में संघ का हर स्वयंसेवक अयोध्या पहुंचना चाहता था. जो न ...

    Read more

    असम – सोनितपुर में रामभक्तों की रैली पर हथियारों से लैस भीड़ ने किया हमला, रामधुन बजाने का किया विरोध

    असम. असम के सोनितपुर में जिला केंद्र से 27 किलोमीटर दूर स्थित तेलिया गांव में अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर भूमि पूजन के उपलक्ष्य में बजरंग दल के नेतृत्व में निकली राम भक्तों की रैली पर शिव मंदिर जाते समय धारदार शस्त्रों से लैस जिहादी भीड़ ने रास्ता रोक दिया, रामधुन तथा जय श्रीराम के नारे पर आपत्ति करते हुए अचानक हमला कर दिया. हमले में 20 लोगों को गंभीर चोटें आई हैं. भीड़ ने वाहनों को भी आग लगा दी. चार ...

    Read more

    दीपकों की रोशनी से जगमग धर्मनगरी चित्रकूट, राममय हुआ कण-कण

    चित्रकूट धाम. श्रीराम की तपोस्थली चित्रकूट धाम में बुधवार को घर-घर में दीपक जलाए गए. सबसे ज्यादा आकर्षण का केंद्र रामघाट और श्री कामदगिरि परिक्रमा स्थल रहा. जिसे हजारों दीपों की लड़ियों के साथ बेहद खूबसूरती से सजाया गया था. बड़ी संख्या में हुए दीप प्रज्ज्वलन से चित्रकूट ऐसे सजा था जैसे मंदाकिनी और कामदगिरि में आसमान से तारे उतर आए हों. इस दौरान इंद्र भगवान भी चित्रकूट पर मेहरबान रहे, झमाझम बारिश के बीच राम ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top