You Are Here: Home » Posts tagged "अयोध्या"

    हिन्दू पुनरोत्थान का क्रम जारी रहने वाला है – पं. वामदेव शास्त्री

    अमेरिका के न्यू मैक्सिको में अमेरिकन इंस्टीट्यूट ऑफ वैदिक स्टडीज के प्रणेता पद्मभूषण डॉ. डेविड फ्रॉले उपाख्य पंडित वामदेव शास्त्री ने वेदों, पुराणों और अन्य भारतीय धर्मग्रंथों का विशद् अध्ययन किया है. वे संस्कृत के विद्वान हैं. अपने इंस्टीट्यूट के माध्यम से वे पश्चिम, विशेषकर अमेरिका में वेद, आयुर्वेद, योग और भारतीय ज्ञान भण्डार के प्रचार-प्रसार में लगे हैं. '80 के दशक में उनका भारत में उस समय हिन्दुत्व से ...

    Read more

    श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन के उन्नायक श्री अशोक सिंहल जी की पुण्यतिथि पर नमन

    बीसवीं इक्कीसवीं सदी का संधि काल हिन्दू समाज के नवजागरण के काल खण्ड के रूप में इतिहास के पन्नों में अंकित होगा. यह वह कालखंड है, जब शताब्दियों से पराधीनता की बेड़ियों में जकड़े जाने से उत्पन्न आत्मविस्मृति एवं आत्महीनता की भावना को तोड़कर हिन्दू समाज ने विश्वपटल पर हूंकार भरी थी. सोए हुए हिन्दू पौरुष को जगाने का आधार बना श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन और इस आंदोलन के स्मरण के साथ ही इसके नायकों में जो नाम प्रमुखता ...

    Read more

    भारतीय इतिहास की गलत व्याख्या के साथ ही ऐतिहासक प्रमाणों को झुठलाते वामपंथी इतिहासकार

    इसमें कोई दो राय नहीं कि सत्य के उद्घाटन के अतिरिक्त इतिहास की कोई वैचारिक अथवा सांस्कृतिक प्रतिबद्धता नहीं होनी चाहिए. इतिहास में धर्मनिरपेक्ष सोच अथवा पंथनिरपेक्ष मूल्यों का भी समावेश नहीं होना चाहिए, क्योंकि तटस्थ दृष्टिकोण से लिखा इतिहास तो होता ही धर्म अथवा पंथ निरपेक्ष है. इतिहास आस्था का आधार अथवा विश्वास का प्रतीक भी नहीं होना चाहिए, क्योंकि आस्था, विवेक और तर्क का शमन करती है. इतिहास बौद्धिक कट्टरत ...

    Read more

    अयोध्या – काश! बाबरी ढांचे का सच मुसलमानों को बताया होता ……

    अयोध्या मामले में सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आ चुका है. पूरे देश को इस निर्णय का इंतजार था. सर्वोच्च न्यायालय ने रामलला के पक्ष में फैसला दिया है. अयोध्या का मामला अदालत के बाहर भी सुलझ सकता था, यदि देश के मुसलमानों को मुस्लिम नेतृत्व ने, खास तौर पर न्यायालय में मुस्लिम पक्षकारों ने, सत्य बताया होता. लेकिन वोट बैंक की राजनीति हावी होती चली गई. मुस्लिमों को बताया जाना चाहिए था कि राम जन्मभूमि पर वास्तविक प् ...

    Read more

    अयोध्या – फैज़ाबाद के जिला जज (ब्रिटिश जज) ने राम जन्मस्थान पर बाबरी ढांचे को दुर्भाग्यपूर्ण कहा था…

    भारत में मुग़ल काल से ही यूरोपियन व्यापारियों और यात्रियों का आना प्रारंभ हो गया था. इनमें से बहुतों ने अपने यात्रा वृत्तांत संस्मरण आदि लिखे हैं. जब राम जन्मभूमि पर स्थित मंदिर को बाबर द्वारा तोड़े जाने के प्रमाण मांगे गए, तब अनेक विद्वानों ने जगह-जगह से ढूंढकर इन अभिलेखों को प्रस्तुत किया. ये वक्तव्य राम जन्मभूमि मामले के महत्वपूर्ण दस्तावेज बन गए. इन वृत्तांतों में राम जन्मस्थान के अलावा अयोध्या के बारे मे ...

    Read more

    सभी पक्षों को निर्णय का सम्मान करना चाहिये – राष्ट्र सेविका समिति

    राष्ट्र सेविका समिति श्री रामजन्मभूमि वाद पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का स्वागत करती है. भारत के आराध्य प्रभु श्रीरामचंद्र जी के जन्मस्थान पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का राष्ट्र सेविका समिति ह्रदय से स्वागत करती है और सभी माननीय न्यायाधीशों का अभिनंदन करती है. अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि वाद पर आज बहुत ही स्पष्ट और सटीक निर्णय आया है. इस निर्णय को किसी भी पक्ष की जय-पराजय की दृष्टि से न ...

    Read more

    अयोध्या निर्णय पर विश्व हिन्दू परिषद कार्याध्यक्ष एडवोकेट आलोक कुमार का प्रेस वक्तव्य

    नई दिल्ली. आज अत्यंत प्रसन्नता और समाधान का दिन है. शताब्दियों से चले आ रहे संघर्ष, अनेक युद्ध और असंख्य बलिदानों के बाद सर्वोच्च न्यायालय ने न्याय और सत्य को आज उद्घोषित किया है. 40 दिन की तथा 200 घंटे से अधिक की मैराथन सुनवाई के बाद और सब प्रकार की बाधाओं से विचलित हुए बिना दिया गया यह निर्णय विश्व के महानतम निर्णयों में से एक है. हिन्दू समाज लगभग 70 वर्षों के न्यायिक संघर्ष के बाद इस निर्णय की अधीरता से ...

    Read more

    श्री रामजन्मभूमि मामले पर सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय पर सरसंघचालक मोहन भागवत जी की प्रेस वार्ता

    श्री रामजन्मभूमि के संबंध में मा. सर्वोच्च न्यायालय द्वारा इस देश की जनभावना, आस्था एवं श्रद्धा को न्याय देने वाले निर्णय का राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ स्वागत करता है। दशकों तक चली लंबी न्यायिक प्रक्रिया के बाद यह विधिसम्मत अंतिम निर्णय हुआ है। इस लंबी प्रक्रिया में श्री रामजन्मभूमि से संबंधित सभी पहलुओं का बारीकी से विचार हुआ है। सभी पक्षों के द्वारा अपने-अपने दृष्टिकोण से रखे हुए तर्कों का मूल्यांकन हुआ। धैर ...

    Read more

    अयोध्या – अदालत में खुली वामपंथी बुद्धिजीवियों की पोल

    अयोध्या मामले में हिन्दू पक्ष को झूठा साबित करने की कोशिश करने वाले वामपंथी अदालत में बार-बार झूठे साबित हुए. जब वास्तव में सबूतों की धार पर रखे गए तो उनकी बोलती बंद होती गई. अदालत उन्हें बार-बार फटकार लगाती गई. इनके फर्जी सबूतों की धज्जियां उड़ती गईं. अदालत में उनके साथ क्या हुआ, ये विस्तार से जानना जरुरी है, क्योंकि बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी और वक्फ बोर्ड की तरफ से तथाकथित सबूत पेश करने वाले यही लोग रहे हैं ...

    Read more

    अयोध्या – वामपंथी झूठ की कालिख से रंगे पन्ने और चेहरे

    तीन दशकों तक जाली प्रमाण, बोगस बातें और झूठ के पुलिंदों के सहारे मंदिर के अकाट्य प्रमाणों को झुठलाने की कोशिश की गई. अदालत में झूठे साबित होते रहे, पर बाहर वही झूठ दोहराते चले गए. हिन्दू संस्कृति को सब बुराइयों की जड़ कहने वाले और पूजा-उपासना को अफीम कहने वाले वापंथियों ने हमेशा भारत के इतिहास को विकृत करके प्रस्तुत किया. कांग्रेस से उनका एक अलिखित समझौता रहा, जिसके अंतर्गत वामपंथियों को शिक्षा और कला संस्था ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top