करंट टॉपिक्स

मोइरांग में आईएनए स्मारक आधुनिक भारत का एक तीर्थस्थल है – दत्तात्रेय होसबाले जी

इम्फाल. पराक्रम दिवस के अवसर पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले जी ने कहा...

जब नगाओं ने अपने हिस्से का भोजन भी आईएनए के सैनिकों को दे दिया था

आशुतोष भटनागर निदेशक, जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र दिल्ली नगा राजा कल्बेट की प्रसन्नता का पारावार न था. अंग्रेज जिसके नाम से भय खाते थे, वे...

स्वाधीनता आंदोलन में त्याग, बलिदान और साहस की प्रतीक मातृशक्ति

लोकेन्द्र सिंह प्रत्येक कालखंड में मातृशक्ति ने भारत के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया है. समाज जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में वह पुरुष...

स्वाधीनता का अमृत महोत्सव – 1857 की क्रांति के प्रतिसाद

रवि कुमार 10 मई, 1857 को प्रारंभ हुआ स्वतंत्रता समर 1859 आते-आते समाप्त हो गया. क्या देशभक्ति का ज्वार मात्र दो वर्ष में ही भाटे...

अमृत महोत्सव : स्वतंत्रता संग्राम के अज्ञात सेनानी – कांगड़ा के वीर सिंह गुलेरिया, बर्लिन से हिन्दुस्तान में देते थे नेता जी का संदेश

देश की स्वतंत्रता के लिए आजाद हिन्द सेना के संस्थापक नेता जी सुभाष चंद्र बोस जर्मनी के बर्लिन रेडियो स्टेशन से हिन्दुस्तान और हिन्दुस्तान से...

21 अक्तूबर – सिंगापुर में आजाद हिन्द सरकार का गठन; जापान, जर्मनी, इटली, कोरिया, फिलीपीन्स सहित अन्य देशों ने दी थी मान्यता

देश स्वतत्रंता की 75वीं वर्षगांठ ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के रूप में मना रहा है. अमृत महोत्सव में आज़ाद हिंद सरकार के स्थापना दिवस के...

पराक्रम दिवस – जब नेताजी ने अंग्रेजों के संसाधनों से लड़ी अंग्रेजों के खिलाफ लड़ाई

सौरभ कुमार देश गुलामी की बेड़ियों में जकड़ा था. भारत का एक वीर सपूत देश से सैकड़ों किमी दूर बैठा देश की आजादी के लिए...

अंग्रेज़ भारत से क्यों भागे…? / 3

हां, इसलिए अंग्रेज भारत छोड़कर भागे..! प्रशांत पोळ हमें यह पढ़ाया गया कि हमारी स्वतंत्रता हमने अहिंसक पद्धति से प्राप्त की. ‘दे दी हमें आजादी...

‘भारतवर्ष की सर्वांग स्वतंत्रता’ के सेनानी डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार

चिरसनातन अखण्ड भारत की सर्वांग स्वतंत्रता के लिए कटिबद्ध राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक डॉ. हेडगेवार स्वतंत्रता संग्राम के एक ऐसे अज्ञात सेनापति थे, जिन्होंने...