करंट टॉपिक्स

पं. दीनदयाल जी की जयंती पर ग्रामोदय पखवाड़ा का शुभारंभ

चित्रकूट. नानाजी देशमुख ने 1968 में पं. दीनदयाल उपाध्याय के निर्वाण के उपरांत दीनदयाल स्मारक समिति बनाकर उनके अधूरे कार्यो को पूर्ण करने के लिये...

शासकीय तंत्र में मानवीय मंत्र की स्थापना का सिद्धांत – एकात्म मानवदर्शन

महान दार्शनिक प्लेटो के शिष्य व सिकंदर के गुरु अरस्तु ने कहा था - "विषमता का सबसे बुरा रूप है, विषम चीजों को एक समान...

विश्व-बंधुत्व की भावना को साकार करता एकात्म मानवदर्शन

प्रणय कुमार सरलता और सादगी की प्रतिमूर्त्ति पंडित दीनदयाल उपाध्याय बहुमुखी एवं विलक्षण प्रतिभा के धनी थे. उनका जीवन परिश्रम और पुरुषार्थ का पर्याय था....

अंत्योदय से भारत उदय की यात्रा के शिल्पकार दीनदयाल उपाध्याय

प्रणय विक्रम सिंह राष्ट्रीय और जनपक्षधर राजनेता, तत्वदर्शी, चिंतक, दूरद्रष्टा, स्वप्नदर्शी दीनदयाल उपाध्याय की आत्मा ने आज ही के दिन दस्तक दी थी. आज ही...

विचार, विकास व संस्कृति को मिलाकर बनता है भारत – डॉ. कृष्णगोपाल जी

दीनदयाल के विचारों पर काम कर रही है सरकार - राजनाथ सिंह जी जयपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ. कृष्णगोपाल जी ने कहा...

संस्कृति और अर्थनीति के समन्वय से भारत पुनः बन सकता है सोने की चिड़िया – डॉ. महेश चंद्र शर्मा

नई दिल्ली. भाऊराव देवरस सेवा न्यास द्वारा एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर, संसद मार्ग में 24वां भाऊराव देवरस स्मृति व्याख्यान 'संस्कृति और अर्थनीति के संगम की उभरती...

जाति आधारित भेदभाव अमानवीय, असंवैधानिक एवं अधार्मिक भी है – संघ

हैदराबाद में अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल की बैठक का शुभारंभ हैदराबाद (विसंकें). आज 23 अक्तूबर को प्रातः 08:30 बजे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय...

एकात्म-मानव दर्शन से पुरातन को युगानुकूल व नवीन को देशानुकूल करना संभव: बजरंगलालजी

आनंद ( गुजरात). एकात्म मानव दर्शन विषय पर भारतीय विचार मंच द्वारा आनंद (गुजरात) में एक दिवसीय प्रांत स्तरीय कार्यकर्ता प्रशिक्षण वर्ग का आयोजन किया...

राजनीति के क्षेत्र में अध्यात्म के राजदूत थे दीनदयाल – अजय मित्तल

मेरठ. विश्व संवाद केन्द्र पर दीनदयाल उपाध्याय जयन्ती पर उनको श्रद्धांजलि दी गयी.विश्व संवाद केन्द्र प्रति माह एक पत्रकार लेख की जयन्ती अथवा पुण्यतिथि पर...