करंट टॉपिक्स

और विघटन प्रारंभ हुआ…!

प्रशांत पोळ विश्वविख्यात अर्थशास्त्री प्रो. अंगस मेडिसन ने अपने “The History of World Economics” में प्रमाणों के आधार पर लिखा है कि सन् १००० में...

कैसा बसन्त? जब सरस्वती लन्दन में कैद हो..!

बसन्त दहलीज पर है. बसन्त पंचमी के दिन देशभर में छोटे–बड़े हजारों उत्सव होते हैं. वर्ष भर उत्सवों को उत्सव कलाकार अपनी कला से बनाते...

वामपंथी इतिहासकारों ने भारतीयों के स्वाभिमान को तोड़ने वाला इतिहास लिखा

सुखदेव वशिष्ट वामपंथी इतिहासकारों ने भारत को बांटने और भारतीयों के स्वाभिमान को तोड़ने वाला इतिहास लिखा. कुछ इतिहासकारों के अनुसार तो भारत कभी एक...

वामपंथी इतिहासकारों ने भारत को बांटने और भारतीयों के स्वाभिमान को तोड़ने वाला इतिहास लिखा – डॉ. कृष्णगोपाल जी

नई दिल्ली. दिल्ली विश्वविद्यालय के संस्कृत विभाग के तत्वाधान में ‘पुरातत्व एवं अभिलेखशास्त्र के आलोक में भारतीय इतिहास का पुनर्लेखन’ विषय पर आयोजित गोष्ठी का...

प्राचीन भारतीय मंदिरों में विज्ञान  

भारत ही नहीं वर्तमान दुनिया में केवल पांडुलिपियों और पुस्तकों को ज्ञानार्जन का आधार माना जाता है. इसीलिए भारत में जब आक्रांता आए तो उन्होंने...

अंतिम भाग – मत चूको चौहान…

पद्मश्री महाराव रघुवीर सिंह मोहम्मद गौरी द्वारा आक्रमण करने पर, युद्ध में जाते समय चन्द्रवरदाई को एक महापुरुष के दर्शन हुए, जिन्हें राजकवि ने भगवान...