करंट टॉपिक्स

नेताजी और संघ के विचार एक, नेताजी आधुनिक‌ भारत‌ के शिल्पकार थे – डॉ. मोहन भागवत जी

कोलकाता. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस और संघ का चिंतन एक ही है. सरसंघचालक...

सेकुलर ‘कारवां’ के झूठ का पुलिंदा तार-तार – 2

रतन शारदा असहिष्णु और धर्म विरोधी बातें प्रकाशित करने के लिए बदनाम सेकुलर पत्रिका ‘कारवां’ ने 1 जुलाई 2023 को एक ऐसा लेख प्रकाशित किया...

सेकुलर ‘कारवां’ के झूठ का पुलिंदा तार-तार – 1

रतन शारदा असहिष्णु और धर्म विरोधी बातें प्रकाशित करने के लिए बदनाम सेकुलर पत्रिका ‘कारवां’ ने 1 जुलाई 2023 को एक ऐसा लेख प्रकाशित किया...

वामपंथी आंदोलन पस्त हो चुका है?

पराधीन भारत में मुस्लिम लीग को छोड़कर सीपीआई एकमात्र राजनीतिक पार्टी थी, जो पाकिस्तान के सृजन के लिए ब्रितानी षड्यंत्र का हिस्सा बनी. तब वामपंथी...

‘सुघोष दर्शन’ कार्यक्रम – 1500 छात्र-छात्राओं ने दी घोष की प्रस्तुति, सुभाष प्रतिमा तक संचलन

भोपाल. लगभग 7 माह से विद्यालय स्तर पर चल रहे अभ्यास और तैयारियों के बाद सरस्वती विद्या मंदिर के 1500 बच्चों ने घोष वादन की...

नेताजी का जीवन वैभवशाली भारत के निर्माण के लिए तपस्या व समर्पण का आदर्श उदाहरण – डॉ. मोहन भागवत जी

कोलकाता. स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पराक्रम दिवस पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की ओर से "नेताजी लह प्रणाम" कार्यक्रम का आयोजन...

जब नगाओं ने अपने हिस्से का भोजन भी आईएनए के सैनिकों को दे दिया था

आशुतोष भटनागर निदेशक, जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र दिल्ली नगा राजा कल्बेट की प्रसन्नता का पारावार न था. अंग्रेज जिसके नाम से भय खाते थे, वे...

नेताजी की जयंती पर विद्या भारती का सुघोष दर्शन कार्यक्रम; 1500 विद्यार्थी करेंगे घोष वादन

भोपाल. स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जयंती के अवसर पर विद्या भारती मध्यभारत प्रांत द्वारा ‘सुघोष दर्शन’ कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. इसमें मध्यभारत प्रांत...

हजारों वर्षों से प्रकृति के साथ ताल-मेल बनाकर जीवन को आगे बढ़ाया है

नई दिल्ली. देश के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस एनवी रमन्ना ने द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई. राष्ट्रपति पद की शपथ के बाद द्रौपदी...

नेताजी से जुड़े रहस्य सुलझाने के लिए ताइवान ने खोले नेशनल आर्काइव के दरवाजे

नई दिल्ली. नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मृत्यु को लेकर आज भी रहस्य बना हुआ है. ताइवान ही वह अंतिम देश था, जहां अंतिम बार...