करंट टॉपिक्स


Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/sandvskbhar21/public_html/wp-content/themes/newsreaders/assets/lib/breadcrumbs/breadcrumbs.php on line 252

गणेश शंकर विद्यार्थी ने पत्रकारिता में राष्ट्रहित को सर्वोपरि रखा

मेरठ (विसंकें). क्रांतिकारी एवं पत्रकार गणेश शंकर विद्यार्थी ने पत्रकारिता के माध्यम से देश की आजादी के आंदोलन को एक नई दिशा दी. अपनी 41...

लोकमान्य जी का स्मरण – लोकमान्य तिलक और पत्रकारिता

विद्याविलास पाठक लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक - देश के स्वतंत्रता संग्राम का एक स्वर्णिम व्यक्तित्व. “स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे ले कर...

बीबीसी का मुस्लिम स्नेह और पत्रकारीय सिद्धांत

रविंद्र सिंह भड़वाल धर्मशाला पत्रकारिता हमेशा लोक का मंगल करने वाली हो, इसलिए पत्रकार जगत ने स्वयं ही अपने लिए मर्यादाओं की कुछ लक्ष्मण रेखाएं...

पत्रकारिता लोकतंत्र का महत्वपूर्ण स्तंभ –  रामदत्त चक्रधर जी

समाज में हो रहे सकारात्मक काम को दिखाने की जरूरत आद्य संपादक महर्षि वेद व्यास - अतीत और वर्तमान विषय पर गोष्ठी आयोजित रांची (विसंकें)....

राष्ट्र की रक्षा करना ही पत्रकारिता का धर्म – बल्देव भाई शर्मा

नोएडा. नेशनल बुक ट्रस्ट के अध्यक्ष बल्देव भाई शर्मा ने कहा कि पत्रकारिता का धर्म राष्ट्र की रक्षा करना है. देश में पत्रकारिता का उदय...

राष्ट्र जीवन को दिशा देते हैं आदि पत्रकार नारद: राम माधव

देहरादून. नारद जी आदि पत्रकार के तौर पर याद किए जाते है. उनका पूरा जीवन सूचना संचार के लिये समर्पित रहा. उन्हें कभी-कभी विदूषक के...