करंट टॉपिक्स

राम ‘धर्म’ के रूप में सदैव विद्यमान रहेंगे – डॉ. कृष्णगोपाल जी

लखनऊ. चैत्र नवमी के पावन अवसर पर राम जन्मोत्सव अर्थात राम नवमी को देश भर में हर्ष के साथ मनाया गया. इसी संदर्भ में लखनऊ...

अब राष्ट्र मंदिर का निर्माण करना है – विशाल कुमार

सरदारशहर, जयपुर. श्रीराम जन्मोत्सव आयोजन समिति सरदारशहर ने तेरापंथ भवन में भारतीय नववर्ष विक्रम संवत् २०८१ पंचांग विमोचन कार्यक्रम आयोजित किया. इस अवसर पर राष्ट्रीय...

अभाविप की दो-दिवसीय केंद्रीय कार्यसमिति बैठक की पुडुचेरी में प्रारंभ

मांग - पेपरलीक की घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण, कड़े कदम उठाए सरकार पुडुचेरी. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) की दो दिवसीय केंद्रीय कार्यसमिति बैठक (27-28 फरवरी) का...

श्रीराम के जीवन को मंच पर सजीव करेंगे विभिन्न देशों के रामदल

लखनऊ (विसंकें). राम सबके हैं और सबमें हैं.. अलग-अलग रूपों में वह सबके लिए आदर्श हैं. परिवार, समाज, पुत्र, भाई, पति और राजा के रूप...

संपूर्ण देश का वातावरण मंगलमय बना है – डॉ. मोहन भागवत जी

नई दिल्ली. 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले प्रभु श्री रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए, श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष...

क्या पहचान व पराक्रम से रहित मर्यादा संभव है?

पिछले कुछ वर्षों में मर्यादा के अहिंसात्मक संस्करण को समाज में रोपने का सतत प्रयास हुआ है, और इसके कारण यह मान लिया गया कि...

प्रभु श्रीराम तो सबके हैं – अमरनाथ जी महाराज

जिन लोगों ने अज्ञानता वश धर्म कार्य में बाधा बनने का प्रयत्न किया, या जान-बूझकर प्रभु राम के नाम को कोसा है, राम तो उनके...

अपने जीवनकाल में कुछ ऐसा काम करें कि हमारी भूमिका रेखांकित हो – दत्तात्रेय होसबाले जी

कोरबा, छत्तीसगढ़. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले जी ने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री रामचंद्र के जीवन दर्शन और समाज राष्ट्र के...

राम फिर लौटे

अयोध्या आन्दोलन अपने मकसद में सफल रहा. मंदिर तो बन गया. अब आगे क्या? यह मंदिर किन भारतीय सांस्कृतिक मूल्यों का ऊर्जा पुंज बनेगा. यह...

क्यों भड़कती है हिंसा?

बलबीर पुंज बीते कुछ वर्षों से हिन्दू पर्वों पर निकलने वाली शोभायात्राओं पर हिंसक हमले तेज हुए हैं. ऐसा करने वाले कौन हैं, यह सर्विदित...