करंट टॉपिक्स

26 जनवरी – पूर्ण स्वराज्य/गणतंत्र दिवस और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

डॉ. श्रीरंग गोडबोले भारत में 26 जनवरी को प्रतिवर्ष 'गणतंत्र दिवस' के रूप में मनाया जाता है. कम लोग इस तथ्य को जानते हैं कि...

जब नगाओं ने अपने हिस्से का भोजन भी आईएनए के सैनिकों को दे दिया था

आशुतोष भटनागर निदेशक, जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र दिल्ली नगा राजा कल्बेट की प्रसन्नता का पारावार न था. अंग्रेज जिसके नाम से भय खाते थे, वे...

कांग्रेस के घृणा भरे रक्तरंजित इतिहास के लिए माफी मांगें राहुल – डॉ. सुरेन्द्र जैन

नई दिल्ली. विश्व हिन्दू परिषद ने कहा कि कांग्रेस के अपरिपक्व बुद्धि वाले, एक कथित युवा नेता ने भारत जोड़ने के नाम पर जिस प्रकार...

स्वामी विवेकानन्द – स्वतन्त्रता संग्राम के प्रमुख प्रेरणा स्रोत

हेमेन्द्र क्षीरसागर 12 जनवरी, 1863 को कलकत्ता में अवतरित वेदान्त के विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु स्वामी विवेकानन्द का बचपन का नाम वीरेश्वर रखा गया,...

राष्ट्रचिंतन लेखमाला – हिन्दू विरोध का जन्मजात एजेंडा; ए.ओ. ह्यूम (1885) से 2023 तक

नरेंद्र सहगल हिन्दू, हिन्दुत्व और हिन्दू संस्कृति का विरोध तो कांग्रेस में है. यह एक ऐतिहासिक सच्चाई है कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का जन्म भारत...

क्या वास्तव में भारत में मुस्लिम ‘असुरक्षित’ हैं?

बलबीर पुंज गत दिनों राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी ने भारत को मुस्लिमों के लिए असुरक्षित बताते हुए कहा, "...हमने अपने-अपने...

संघ के स्वयंसेवक कर्तव्य भाव से अनेक सेवा कार्य कर रहे हैं – दत्तात्रेय होसबाले जी

विजयपुर, कर्नाटक. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले जी ने कहा कि हम सब एक ही परिवार के सदस्य हैं. सारा देश और समाज...

भारत मां के वीर सपूतों का गांव मलखाचक; गांव में प्रवेश से कतराती थी अंग्रेज सेना

पटना. छपरा जिला में मलखाचक गंगा किनारे बसा एक गांव है. कभी इस गांव का नाम सुनकर अंग्रेजों के होश उड़ जाते थे. अंग्रेजी फौज...

वीरव्रतधारी – अमर बलिदानी लाल पद्मधर सिंह

कृष्णमुरारी त्रिपाठी सन् १८५८ के प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम से लेकर १५ अगस्त सन् १९४७ को सम्पन्न हुए स्वातन्त्र्य यज्ञ में असंख्य वीर - वीरांगनाओं ने...

जंगल सत्याग्रह और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ – सत्याग्रही डॉ. हेडगेवार

  डॉ. श्रीरंग गोडबोले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक डॉ. हेडगेवार की स्पष्ट सोच थी कि देश के लिए जान देने वाले नहीं, बल्कि जीवन...