करंट टॉपिक्स

‘रज्‍जू भैय्या’ – साधारण जीवन और महान व्‍यक्‍त‍ित्‍व

मनोजकान्त राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एक विशिष्ट संगठन है, जिसके संस्थापक ने ‘दीप से दीप जले’ के मूल सिद्धान्त को अपने साधनात्मक जीवन एवं तपस्या द्वारा...

शक्ति से ही शांति स्थापित होती है – मेजर गौरव आर्य

भोपाल. मेजर गौरव आर्य (सेवानिवृत्त) ने कहा कि लोगों को यह भ्रम नहीं होना चाहिए कि 40–50 हजार की सैलरी के लिए सैनिक दुश्मनों से...

दे दी हमें आजादी बिना खड़ग बिना ढाल?

नरेन्द्र सहगल परतंत्रता के विरुद्ध निरंतर एक हजार वर्षों तक सशस्त्र संघर्ष करने के फलस्वरूप अंततः हमारा अखंड भारतवर्ष दो भागों में विभाजित होकर ‘स्वतंत्र’...

‘गीता प्रेस’ के सम्मान का विरोध करने वालों की मानसिकता?

लोकेन्द्र सिंह भारत सरकार ने गीता प्रेस, गोरखपुर को प्रतिष्ठित ‘गांधी शांति पुरस्कार’ देने का निर्णय कर सराहनीय कार्य किया है. इसी वर्ष गीता प्रेस...

गीता प्रेस, गोरखपुर को वर्ष 2021 का गांधी शांति पुरस्कार

नई दिल्ली. वर्ष 2021 का गांधी शांति पुरस्कार गीता प्रेस, गोरखपुर को प्रदान किया जाएगा. पुरस्कार में एक करोड़ रुपए की राशि, एक प्रशस्ति पत्र, एक...

प्राचीन काल में भारत तकनीकी, व्यापार, कला, संगीत और साहित्य में अग्रणी था

शिमला. इंडियन इंस्टिटयूट ऑफ एडवांस्ड स्टडीज द्वारा भारत में संत और आचार्य परंपरा पर व्याख्यान का आयोजन किया गया. व्याख्यान में मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक...

‘हिन्दवी स्वराज्य’ की संकल्पना हो शासन का आधार

लोकेन्द्र सिंह भारतवर्ष जब दासता के मकड़जाल में फंसकर आत्मगौरव से दूर हो गया था, तब शिवाजी महाराज ने ‘हिन्दवी स्वराज्य’ की घोषणा करके भारतीय...

पुस्तक समीक्षा – ‘हिन्दुत्व और गांधी’; एक ही है गांधी जी और आरएसएस का ‘हिन्दुत्व’

लोकेन्द्र सिंह कुछ लोग मेरे इस कथन से असहमत हो सकते हैं कि “गांधी जी का जीवन हिन्दुत्व में रचा–बसा था”. असहमतियों का सम्मान है,...

26 जनवरी – पूर्ण स्वराज्य/गणतंत्र दिवस और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

डॉ. श्रीरंग गोडबोले भारत में 26 जनवरी को प्रतिवर्ष 'गणतंत्र दिवस' के रूप में मनाया जाता है. कम लोग इस तथ्य को जानते हैं कि...

जब नगाओं ने अपने हिस्से का भोजन भी आईएनए के सैनिकों को दे दिया था

आशुतोष भटनागर निदेशक, जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र दिल्ली नगा राजा कल्बेट की प्रसन्नता का पारावार न था. अंग्रेज जिसके नाम से भय खाते थे, वे...