करंट टॉपिक्स

सेवा की आड़ में धर्मांतरण से सामाजिक तानेबाने और सुरक्षा पर संकट

सुखदेव वशिष्ठ स्वतंत्रता के समय भारत आर्थिक रूप से संपन्न देश नहीं था और वित्तीय सहायता के लिए पाश्चात्य ईसाई देशों और अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों...

डॉ. हेडगेवार ने किया था जंगल सत्याग्रह का नेतृत्व, 9 माह का कारावास झेला था

नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विरोधियों को जब विरोध का अन्य कोई आधार नहीं मिलता तो वे अक्सर स्वतंत्रता संग्राम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की भूमिका...

Swaraj@75 – स्वतंत्रता के 75 वर्षों का जश्न मनाने के लिए प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय समिति का गठन

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त, 2017 को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने संबोधन में कहा था – “देश के किसी भी...

अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस – अपनी भाषा में शिक्षा से ही बच्चे का सही विकास हो पाता है

अतुल कोठारी 21 फरवरी, 1952 के दिन बांग्लादेश (तत्कालीन पूर्वी पाकिस्तान) में बांगला भाषा को पाकिस्तान की अधिकारिक भाषा बनाने हेतु वहां के छात्रों ने...

‘सु-दर्शन’ के परिचायक दर्शन लाल जी

नरेंद्र सहगल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरियाणा के पूर्व प्रान्त संघचालक हम सबके मार्गदर्शक और प्रेरणास्रोत दर्शन लाल जैन अपने जीवन के 93 वर्ष पूरे कर...

श्रीराम भारतीय जीवनमूल्य, परंपराओं और कर्तव्यबोध का शाश्वत प्रतीक हैं

बलबीर पुंज श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में बनने जा रहे मंदिर सहित 70 एकड़ परिसर की भव्यता पर 1,100 करोड़ रुपये खर्च होंगे. यह निर्माण कार्य...

गणतंत्र दिवस की पूर्वसंध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द जी का राष्ट्र के नाम संदेश

संबोधन के कुछ अंश इतनी विशाल आबादी वाले हमारे देश को खाद्यान्न एवं डेयरी उत्पादों में आत्म-निर्भर बनाने वाले हमारे किसान भाई-बहनों का सभी देशवासी...

स्वामी जी का दर्शन और जीवन आदर्श युवाओं का मार्गदर्शक – जे. नन्दकुमार

स्वामी विवेकानन्द जयन्ती पर व्याख्यानमाला मेरठ. चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय मेरठ में स्वामी विवेकानन्द जयन्ती पर ‘राष्ट्रीय युवा दिवस’ का आयोजन किया गया. कार्यक्रम का...

अंग्रेज़ भारत से क्यों भागे…? / 2

जबलपुर में सेना का आंदोलन प्रशांत पोळ मुंबई के नौसैनिकों के आंदोलन से अंग्रेजी शासन दहल गया था. नौसेना में इतना असंतोष होगा और नेताजी...

स्वामी श्रद्धानंद जी – स्वराज्य, स्वधर्म व स्वाभिमान हेतु बलिदान महात्मा

विनोद बंसल राष्ट्रीय प्रवक्ता, विश्व हिन्दू परिषद एडवोकेट मुंशीराम से स्वामी श्रद्धानंद तक की जीवन यात्रा प्रत्येक व्यक्ति के लिए बेहद प्रेरणादायी है. स्वामी श्रद्धानंद उन बिरले...