You Are Here: Home » Posts tagged "लॉकडाउन"

    किसानों की मदद के लिये विद्यार्थी परिषद ने बढ़ाया कदम, किसानों को दिलवाए उपज के ज्यादा दाम

    रांची. कोरोना संकट के कारण किसानों को भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. किसानों को न बाजार मिल रहा है, न ही फसल के उचित दाम. उपज को पास की मंडियों तक ले जाने का लाभ नहीं हो रहा. ऐसी स्थिति में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने हजारों किसानों की सहायता के लिए कदम बढ़ाया. विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने प्रथम चरण में खूंटी के किसानों पर फोकस किया है. कई हेक्टेयर में लगे तरबूज वे न सिर्फ खरीद रहे हैं, बल् ...

    Read more

    वयं राष्ट्रांग्भूता – हम राष्ट्र का एक घटक हैं

    डॉ. मनमोहन वैद्य   भारत के साथ पूरी दुनिया कोरोना वायरस के कारण निर्मित परिस्थिति से जूझ रही है. भारत की वैविध्यपूर्ण और विशाल जनसंख्या को देखते हुए इस लड़ाई में दुनिया के अन्य दिग्गज देशों से हमारी स्थिति काफी अच्छी है ऐसा कह सकते हैं. पहली बार लॉकडाउन का अनुभव लोगों ने किया. इस के अनुकूल और विपरीत परिणामों की चर्चा भी सर्वत्र चल रही है. धीरे धीरे लॉकडाउन खुल रहा है, सावधानीपूर्वक आगे बढ़ना होगा. इस ए ...

    Read more

    सांप सीढ़ी के खेल से सीखें जिन्‍दगी जीने की कला

    रवि प्रकाश जीवन में सकारात्‍मक होना बहुत अच्‍छी बात है और प्रत्‍येक व्‍यक्ति को सकारात्‍मक सोच वाला बने रहने का प्रयास करना चाहिए. प्रयास मात्र से कुछ नहीं होता, परिवेश और परिस्थिति  भी इसके अनुकूल होनी चाहिए. वर्तमान समय में हम जिस दौर से गुजर रहे हैं और हमारे आस-पास जो कुछ भी घटित हो रहा है, उसमें सकारात्‍मक सोच के साथ आगे बढ़ना बहुत कठिन कार्य है. परिस्थिति और परिवेश यदि साथ न दे तो क्‍या हम जीना छोड़ दे ...

    Read more

    खंडवा – सोशल मीडिया पर अश्लील पोस्ट का विरोध करने पर जिहादी भीड़ ने स्वयंसेवक को पीट-पीट कर मार डाला

    भोपाल (विसंकें). सड़क पर भीड़ जमी है, गाँव के सैकड़ों लोग एक घर के बाहर खड़े हैं.. किसी तरह भीड़ को चीरते अन्दर तक पहुंचे तो घर की चौखट पर मातम पसरा है. परिवार के सभी सदस्य किसी तरह खुद को काबू कर रहे हैं.. हर तरफ रोने का शोर कानों को चीर देने वाला है, लेकिन उसके बावजूद लोगों की आँखों में डर साफ़ दिख रहा है. किसी तरह राजेश फूलमाली के भाई मनोज फूलमाली गहरी सांस लेते हुए कहते हैं “मेरे भाई को मुसलमानों ने मार डाला” ...

    Read more

    कोरोना के विरुद्ध फ्रंटलाइन व बैकलाइन पर जंग लड़ती मातृशक्ति

    डॉ. शुचि चौहान आज कोरोना के विरुद्ध सब युद्धरत हैं. कोई फ्रंटलाइन पर तो कोई बैकलाइन पर अपनी तरह से इस लड़ाई में अपना योगदान दे रहा है. लॉकडाउन में आवश्यक सेवाओं जैसे चिकित्सा, सुरक्षा, पेयजल, बिजली, बैंक व प्रशासनिक कार्यों को छोड़कर सब कुछ बंद है. ऐसे में इन क्षेत्रों में काम करने वाली महिलाओं की तो जैसे अग्निपरीक्षा है. घर में छोटे-छोटे बच्चे, बीमार या बुजुर्ग माता पिता, जिन्हें पल पल देखभाल की जरूरत है, ...

    Read more

    सेवा परमो धर्मः – दिव्यांग राज़ू ने 100 से अधिक परिवारों को एक माह का राशन बांटा

    जालंधर. रविवार को प्रसारित मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के विभिन्न हिस्सों के कुछ उदाहरणों का जिक्र कर भारत में समाज के सेवा भाव को बताया. उन्होंने कहा कि सेवा और त्याग भारत की जीवन पद्धति है. सेवा में सब कुछ समर्पित कर देने वाले लोगों की संख्या अनगिनत है. पंजाब के पठानकोट निवासी दिव्यांग राजू (45 वर्षीय) भी सेवा और त्याग का भी उनमें से एक अनुकरणीय उदाहरण है. संकट काल में राजू के ...

    Read more

    सेवा परमो धर्मः – ठेला चलाकर जीवन यापन करने वाले गौतम दास ने 160 परिवारों को बांटा राशन

    प्रधानमंत्री ने मन की बात कार्यक्रम में गौतम दास के कार्य की सराहना की नई दिल्ली. सेवा और त्याग का हमारा विचार केवल हमारा आदर्श नहीं है, बल्कि भारत की जीवन पद्धति है. सेवा स्वयं में सुख है, सेवा में ही संतोष है. यही कारण है कि वर्तमान संकटकाल में देश का हर व्यक्ति अपनी तरह से जरूरतमंदों की सेवा में जुटा है. दिहाड़ीदार गौतम दास जैसे लोग हमारी इसी जीवन पद्धति का उदाहरण हैं. अगरतला के गौतम दास ठेला चलाकर अपना ज ...

    Read more

    हमारी चुनौतियां और भारत की संभावनाएं

    रवि प्रकाश बगैर किसी भूमिका के सीधी बात की जाए तो फरवरी के आरम्भ होते-होते दुनिया को अहसास हो गया था कि एक भारी संकट विश्व समुदाय को अपनी चपेट में ले रहा है और इससे बाहर निकलना तत्काल संभव नहीं है. यह संकट मानव-निर्मित है या बेलगाम और बेहिसाब दोहन से क्षुब्ध प्रकृति का प्रकोप है, इस पर अभी दुनिया भर में माथापच्ची चल रही है. इस बीच संकट सुरसा के मुँह के समान विशाल और विकराल होता जा रहा है. कोरोना वायरस की बि ...

    Read more

    भारत भारती – आदर्श क्वारेंटाइन सेंटर बना विद्या भारती का धाबा छात्रावास

    ईश प्रार्थना के साथ शुरू होता है दिन, भोजन के लिए दोने पत्तल भी स्वयं बनाते हैं भोपाल (विसंकें). कोरोना माहमारी से बचाव के लिये लागू लॉकडाउन के कारण देश भर में मजदूर जहां-तहां अटके थे. अब सरकार द्वारा उन्हें वापस अपने घर पहुंचाने का क्रम शुरू गया है. लेकिन महामारी की आशंका के कारण उन्हें अपने ग्रामों के आसपास ही 14 दिनों के लिए क्वारेंटाइन में रखा गया है. इसी प्रकार विद्या भारती के प्रद्युम्न धोटे स्मृति जन ...

    Read more

    जागृत समाज – सतलुज की दरारों को भरा, रेलवे पुल के नीचे से हटाई 8 फीट तक मिट्टी

    किसानों ने स्वयं वहन किया अभी तक एक करोड़ से अधिक का खर्च गत वर्ष सतलुज में बाढ़ के कारण आई दरारों को भी भरा लगभग चार दर्जन से अधिक गांवों को बाढ़ से मिलेगी राहत संत बलबीर सिंह सींचेवाल के नेतृत्व में जुटे लोग कारसेवा को सुलतानपुर लोधी (जालंधर)/दीपक शर्मा संत शक्ति न केवल इस देश का आध्यात्मिक जागरण कर रही, बल्कि नए भारत का मार्ग भी प्रशस्त करने का महाकार्य कर रही है. विश्व के जाने माने पर्यावरणविद् पद्मश्री ...

    Read more

    हमारे न्यूज़लेटर के लिए साइन अप करें

    VSK Bharat नवीनतम समाचार के बारे में सूचित करने के लिए अभी सदस्यता लें

    Scroll to top