करंट टॉपिक्स

राष्ट्रीय शिक्षा नीति-२०२० पर विद्याभारती द्वारा प्रतियोगिता का आयोजन

मुंबई (विसंकें). केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति २०२० की घोषणा की गयी. इस नीति के बारे में जनजागरण के उद्देश्य से विद्या भारती अखिल...

बच्चों को समझने के लिए हमें भी बनना होगा 21वीं सदी का अभिभावक

रोहतक (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हरियाणा प्रांत के बाल कार्य विभाग द्वारा ‘बाल संस्कारशाला’ में बच्चों के बचपन को संवारने के साथ-साथ अभिभावकों को भी...

बालिका को किशोरावस्था से ही शिक्षा के साथ-साथ स्वावलंबी बनने की ओर अग्रसर करना चाहिए -रेखा चूड़ासम्मा

रोहतक. विद्या भारती की बालिका शिक्षा प्रमुख रेखा चूड़ासम्मा ने कहा कि वर्तमान शिक्षा व्यवस्था में बालिका की नैसर्गिक, मनोवैज्ञानिक, भावनात्मक इस्त्रियोचित गुणों का विकास...

कच्छ – सीमावर्ती क्षेत्र में संघ की संस्थाओं ने किया पक्के घरों का निर्माण

चतुर्थ सरसंघचालक सुदर्शन जी की इच्छा को मिला साकार स्वरूप कच्छ (विसंकें). सीमांत क्षेत्रों में रहने वाले, तथा वंचित समाज के लोगों को भी जीवन...

राष्ट्रीय शिक्षा नीति – अतीत के अनुभव, वर्तमान की चुनौतियों तथा भविष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखा गया

छह वर्ष तक शिक्षाविदों, बुद्धिजीवियों, विचारकों, शैक्षिक, प्रशासकों तथा अन्य शिक्षा क्षेत्र के हितग्राहियों के परामर्श, भौगोलिक क्षेत्रफल की दृष्टि से लगभग एक लाख गांवों...

विद्या भारती असम द्वारा स्वदेशी हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

गुवाहाटी. स्वदेशी आचरण और स्वावलम्बन के आधार पर समृद्ध और शक्तिशाली भारत के निर्माण हेतु स्वदेशी संकल्प के डिजिटल हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ शिशु शिक्षा...

सौर ऊर्जा से रोशन मध्यप्रदेश का आदर्श गाँव – बांचा

भोपाल. आदर्श गांव बांचा - मध्यप्रदेश के बैतूल जिले का एक छोटा-सा अनुसूचित जनजाति (शेड्यूल ट्राइब) बाहुल्य गाँव है. आजकल यह छोटा-सा गाँव अपने बड़े...

असम – शंकरदेव शिशु निकेतन के आठ छात्रों ने टॉप 10 में बनाया स्थान

असम दसवीं बोर्ड परीक्षा में विद्या भारती के विद्यालयों का शानदार प्रदर्शन गुवाहाटी. असम हाई स्कूल बोर्ड परीक्षा का परिणाम शनिवार को घोषित किया गया....

भारत भारती – आदर्श क्वारेंटाइन सेंटर बना विद्या भारती का धाबा छात्रावास

ईश प्रार्थना के साथ शुरू होता है दिन, भोजन के लिए दोने पत्तल भी स्वयं बनाते हैं भोपाल (विसंकें). कोरोना माहमारी से बचाव के लिये...

रायसेन के जनजाति बहुल गाँवों में 88 स्थानों पर संचालित किए जा रहे सेवा कार्य

रायसेन, मध्यभारत (विसंकें). कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए घोषित लॉकडाउन ने जनजाति क्षेत्र को भी प्रभावित किया है. यहां प्रभावितों की सहायता...