करंट टॉपिक्स


Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/sandvskbhar21/public_html/wp-content/themes/newsreaders/assets/lib/breadcrumbs/breadcrumbs.php on line 252

राष्ट्रभक्ति का जयघोष – पूर्वोत्तर में भारतीय संस्कृति का जागरण

सुधीर जोगळेकर ‘विजयादशमी’ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का स्थापना दिवस है. ९५ वर्ष पहले इसी दिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना नागपुर में हुई थी और...

आत्मनिर्भर भारत – यह सिर्फ एक आर्थिक विचार नहीं, बल्कि हर व्यक्ति में आत्मविश्वास जगाने का कार्यक्रम

देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं पूर्वोत्तर भारत के लोग - अजित डोभाल मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने कहा...

विश्व बंधुत्व दिवस – 11 सितम्बर

निवेदिता भिड़े यह वर्ष अति-विशेष है क्योंकि 50 वर्ष पहले 02 सितम्बर, 1970 को विवेकानन्द शिला स्मारक का उद्घाटन हुआ था, वह दिवस जब स्वामी...

‘आत्मनिर्भर भारत और नॉर्थ इस्ट’ विषय पर 12 सितंबर को वेबिनार

विवेकानंद केंद्र द्वारा आयोजित वेबिनार में एन.एस.ए. अजित डोभाल, अर्थशास्त्री एस. गुरुमूर्ती होंगे शामिल मुंबई (विसंकें). विवेकानंद शिला स्मारक एवं विवेकानंद केंद्र, कन्याकुमारी द्वारा ‘आत्मनिर्भर...

स्वर्ण जयंती वर्ष – भारत के आत्मविश्वास, आत्मगौरव और प्रेरणा का प्रतीक विवेकानंद शिला स्मारक

  सूर्यप्रकाश सेमवाल “भारत में किसी तरह के सुधार या उन्नति की चेष्टा करने से पहले धर्म का विस्तार आवश्यक है. सर्वप्रथम हमारे उपनिषदों, पुराणों...

पी परमेश्वरन जी – प्रखर विचारवंत, भावपूर्ण कवि, स्थितप्रज्ञ कर्मयोगी

केरल में वामपंथी तूफान के कारण अन्धेरा छाया हुआ था. वहां का हिन्दू समाज, हिन्दू राष्ट्र, हिन्दू धर्म के विषय में बोलने का आत्मविश्वास खो...

विवेकानंद शिला स्मारक के शिल्पी – एकनाथ रानाडे

एकनाथ रानाडे का जन्म 19 नवम्बर, 1914 को ग्राम टिलटिला (जिला अमरावती, महाराष्ट्र) में हुआ था. पढ़ने के लिए वे अपने बड़े भाई के पास...

हमारे जीवन न केवल सफल, बल्कि सार्थक भी बनें : नरेन्द्र मोदी

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने यहां 10 नवंबर को स्‍वर्गीय श्री एकनाथ रानाडे को एक ऐसी विभूति बताया जिन्‍होंने हमें अपने जीवन को...